आकाश शुक्ला, रायपुर। Corona vaccine in chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में कोरोना वैक्सीनेशन की रफ्तार लक्ष्य के मुकाबले काफी धीमे चल रही है। प्रदेश में छह दिनों में 45 हजार 71 लक्ष्य से 28 हजार 732 स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने पहले चरण में 2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन करने के लिए पंजीकृत किया है। इसमें से अब तक 10.76 फीसद को ही टीका लगाया जा सका है। जबकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा पंजीकृत सभी को कोरोना टीका लगाने के लिए 15 फरवरी तक करा लक्ष्य रखा गया है। लेकिन जिस तेजी से टीकाकरण चल रहा है। इसके अनुसार अभी करीब 50 दिन और लग सकते हैं। ऐसे में कई चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों के वैक्सीनेशन समय पर नहीं कराने की वजह से स्वास्थ्य विभाग के लिए नई मुसिबत सामने खड़ी हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक नाम आने के दो दिनों के भीतर टीका न लगवाने वालों के नाम काटने और अलग से सूची बनाकर उन्हें तलब करने की भी बात कही जा रही है। शनिवार को जहां प्रदेश्ा में लक्ष्य 9,676 में से 6,474 यानी 66.91 फीसद ने वैक्सीनेशन कराया। वहीं रायपुर जिले की बात करें तो पांच सेंटरों में 750 के वैक्सीनेशन का लक्ष्य रखा गया था। इसमें से 708 यानी 94 फीसद स्वास्थ्य कर्मियों ने टीका लगवाया है।

अधीक्षक डा. शिप्रा ने लगवाया टीका, कहा: पूरी तरह है सुरक्षित

डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट रिसर्च इंस्टीट्यूट की चिकित्सा अधीक्षक डा. शिप्रा शर्मा, आंबेडकर अस्पताल में सर्जरी विभागाध्यक्ष डा. मंजू सिंह समेत अन्य चिकित्सा विशेषज्ञ और स्वास्थ्य कर्मियों ने कोरोना का टीका लगवाया। अधीक्षक डा. शिप्रा ने कहा कि जब आप टीका लगवाते हैं, तो आप अपनी और पूरे परिवार की सुरक्षा करते हैं। कोरोना का एक टीका पूरे समुदाय में कोरोना के प्रसार को कम कर सकता है। सर्जरी विभागाध्यक्ष डा. मंजू ने कहा कि कोरोना से बचाने वाले इस टीके का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। कोविड-19 टीकाकरण शरीर में कोरोना के प्रति प्रतिरक्षा तंत्र के निर्माण के लिए बेहद ही सुरक्षित और प्रभावी तरीका है।

---

प्रदेश में टीकाकरण और तैयारी

2.67 प्रदेशभर के स्वास्थ्य कर्मियों पहले चरण में लग रहे टीके

97 सेंटर में चल रहा वैक्सीनेशन कार्यक्रम

1349 वैक्सीनेशन केंद्र बना गए है प्रदेश में कुल

राज्य को मिले तीन खेप में वैक्सीन

3.23 लाख कोविशील्ड पहली खेप में

2.65 लाख वैक्सीन दूसरी खेप में

37.5 हजार वैक्सीन की तीसरी खेप

देश में इन पांच राज्यों में सबसे अधिक वैक्सीनेशन

कर्नाटक - 1,38,807

आंध्र प्रदेश - में 1,15,365

ओडिशा - 1,13,623

तेलंगाना - 97,087

बिहार - 63,541

प्रदेश में अब तक टीकाकरण की स्थिति

तिथि - लक्ष्य - टीका लगा - फीसद

16 - 9135 - 5592 - 61.22

18 - 9264 - 5280 - 56.99

20 - 8558 - 5383 - 62.90

21 - 8338 - 5915 - 70.94

22 - 100 - 88 - 88.61

23 - 9676 - 6474 - 66.91

23 जनवरी को जिले के पांच केंद्रों में 94.4 फीसद टीकाकरण

केंद्र - लक्ष्य - वैक्सीनेशन

मेडिकल कालेज रायपुर - 200 - 155

एम्स - 150 - 130

जिला अस्पताल पंडरी - 150 - 148

एनएचएमएमआइ अस्पताल - 150 - 149

मिशन हॉस्पिटल तिल्दा - 100 - 126

कुल - 750 - 708

राज्य में माहवार संक्रमित और मौत के मामले

महीना - संक्रमित - सक्रिय - मौत

18 मार्च से मई - 492 - 377 - 01

जून - 2266 - 595 - 12

जुलाई - 6342 - 2908 - 41

अगस्त - 22361 - 14237 - 223

सितंबर - 82549 - 30927- 680

अक्टूबर - 73668 - 22090 - 1144

नवंबर - 50052 - 19635 - 760

दिसंबर - 42253 - 11435 - 510

जनवरी 22 तक - 16374 - 5308 - 230

अधिकारी बोले

राज्य टीकाकरण अधिकारी डा अमर सिंह ठाकुर ने कहा कि पहले चरण में 2.67 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीनेशन के लिए पंजीकृत किया गया है। इन सभी को टीका लगाने के लिए हमने 15 फरवरी तक का लक्ष्य रखा है। वैक्सीनेशन के लिए सभी को समय पर आने के निर्देश दिए हैं। कोशिश है कि समय पर टीकाकरण का लक्ष्य पूरा हो जाए।

Posted By: kunal.mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags