रायपुर। Corona Treatment: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर अब कोविड मरीजों के इलाज के लिए पंजीकृत निजी अस्पतालों में डाॅ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना और आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जनआरोग्य योजना के हितग्राहियों के लिए 20 प्रतिशत बिस्तर आरक्षित रहेंगे। यह आरक्षण निजी अस्पतालों के कोविड उपचार यूनिट के जनरल वार्ड, एच डी यू बेड आक्सीजन सहित, आईसीयू वेंटिलेटर सहित और बिना वेंटिलेटर के आईसीयू में लागू होगा। इस संबंध में सोमवार को स्वास्थ्य विभाग ने आदेश जारी किया है।

आदेश में कहा गया है कि जिन पंजीकृत अस्पतालों में कोविड मरीजों का इलाज किया जा रहा है, वहां उपलब्ध कुल बिस्तरों में से 20 प्रतिशत बिस्तर डाॅ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना और आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के हितग्राहियों के लिए आरक्षित रखा जाएगा।

इसके साथ ही निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिए संशोधित दरों को भी लागू करने का निर्देश मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 11 अप्रैल को अस्पताल संचालकों और चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज की नए दरें निर्धारित करने के निर्देश दिए थे। उनके निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने आज संशोधित दरें जारी की हैं।

बताते चलें कि कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान राज्य शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा आईसीएमआर द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन अनिवार्य है। इनके उल्लंघन पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। राज्य शासन द्वारा निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए आदेश एपेडेमिक डिसीज एक्ट-1897 और छत्तीसगढ़ पब्लिक एक्ट-1949 के अंतर्गत जारी किया गया है। इस आदेश का उल्लंघन एपेडेमिक डिसीज एक्ट-1897 तथा छत्तीसगढ़ पब्लिक एक्ट-1949 के तहत दंडनीय होगा।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local