रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय मानक ब्यूरो (बीएसआइ) क्वालिटी आफ कंट्रोल को लेकर सख्त हो गया है। खिलौनों में आइएसआइ मार्का अनिवार्य करने के बाद बहुत से नए उत्पादों पर भी इसे अनिवार्य कर दिया गया है। बीआइएस रायपुर के प्रमुख सुमित कुमार के अनुसार इनमें प्रेशर कुकर, वाटर हीटर, घरेलू मिक्सर समेत लगभग 300 उत्पाद शामिल हैं। अधिकारियों का कहना है कि बिना आइएसआइ मार्का वाले उत्पादों बेचने पर कार्रवाई लगातार जारी है। अगले वर्ष जनवरी से कार्रवाई और तेज कर दी जाएगी।

अधिकारियों का कहना है कि उपभोक्ताओं को भी जागरूक होना होगा कि वे बिना आइएसआइ मार्का वाले उत्पादों की खरीदारी न करें। बता दें कि सरकार द्वारा बीआइएस अधिनियम के तहत ग्राहक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए विभिन्न उत्पादों पर आइएसआइ मार्का की अनिवार्यता का आदेश जारी कर दिया गया है। कोरोना काल के दौरान ही यह आदेश जारी कर दिया गया था, लेकिन अब सख्ती से लागू किया जा रहा है। इसके उल्लंघन पर निर्माता, बेचने वालों पर बीएसआइ अधिनियम के तहत दंडात्मक कार्रवाई का प्रविधान है।

निर्माता पर होगी सीधे कार्रवाई

बताया जा रहा है कि विभाग द्वारा की जाने वाली कार्रवाई के दायरे में सबसे पहले बिना आइएसआइ मार्का वाले उत्पादों का निर्माण करने वाले आएंगे। यानी फैक्ट्रियों पर पहले, उसके बाद बाजार में रिटेलरों पर छापामार कार्रवाई की जाएगी।

हेलमेट पर भी अनिवार्य है आइएसआइ

पिछले दिनों बीएसआइ ने हेलमेट पर भी आइएसआइ की अनिवार्यता लागू की। इसके अलावा आभूषणों पर हालमार्क अनिवार्य कर दिया गया है। अब सराफा संस्थानों में हालमार्क वाले गहने ही उपलब्ध होते हैं। अधिकारियों का कहना है कि बिना मार्का वाले उत्पादों में सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं होती। सामान्य तौर पर लोग सस्ते के फेर में आकर इन्हें खरीद लेते हैं। सबसे अधिक दुर्घटनाएं भी ऐसे ही उत्पादों के कारण होती है। इसलिए कड़ाई आवश्यक है। जनवरी माह से अभियान चलाने की बात कही गई है।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close