रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ में एक साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अब भाजपा महिला मोर्चा कई मुद्दों पर सरकार को घेरने जा रही है। मोर्चा की तरफ से तीन नवंबर को बिलासपुर में महतारी हुंकार रैली का आयोजन किया गया है। इसमें एक लाख महिला कार्यकर्ताओं के शामिल होने का दावा किया जा रहा है।

राज्यसभा सदस्य सरोज पांडे ने प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में आयोजित पत्रकारवार्ता में कहा कि न्यायधानी बिलासपुर में महतारी हुंकार रैली करेंगे। प्रदेश की गूंगी-बहरी सरकार को जगाने और सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए यह आंदोलन किया जा रहा है। 29 और 30 सितंबर को जिला स्तरीय और एक व दो अक्टूबर को विधानसभा स्तरीय बैठक होगी। आंदोलन को गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए सात अक्टूबर से 11 अक्टूबर तक ग्राम स्तर पर महिला स्व सहायता समूहों, विद्या मितानों व आंगनबाड़ी की कार्यकर्ताओं से संपर्क करेंगी। 14 या 15 अक्टूबर को तहसीलों और 18 से 29 अक्टूबर तक प्रदेश के सभी जिलों में महतारी हुंकार रैली के लिए बैठक आयोजित की गई है। 28 अक्टूबर को पूरे प्रदेश की महिलाओं द्वारा भगवामय होते हुए स्कूटी रैली निकाली जाएगी।

बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा. रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने हर वर्ग को छला है। चुनावी घोषणापत्र की वादों को चार साल बाद भी पूरा करने की दिशा में कोई उचित कदम नहीं उठाया है। सरोज पांडे ने कहा कि मुख्यमंत्री कांग्रेस के लिए एटीएम की भूमिका निभा रहे हैं।

इन मुद्दों को उठाएगी भाजपा

महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने बताया कि महतारी हुंकार रैली में पूर्ण शराबबंदी, विधवा पेंशन, महिला स्व-सहायता समूह का पूरा कर्जा माफ, महिलाओं पर बढ़ते अपराध सहित अन्य मुद्दों को उठाया जाएगा। राजपूत ने कहा कि महिला स्व सहायता समूह से रेडी टू ईट निर्माण का काम छीनकर सरकार ने 20 हजार बहनों को बेरोजगार कर दिया। महिला सेल खोलने और पूर्ण शराबबंदी के नाम पर छलावा हो रहा है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close