रायपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)

राजधानी में आनलाइन धोखाधड़ी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। शातिर ठग किसी न किसी तरीके से लोगों के खाते में सेंध लगाकर पैसे उड़ा रहे हैं। न्यू राजेंद्र नगर इलाके में आनलाइन ठगी के तीन अलग-अलग मामले सामने आए हैं। पहले केस में टैक्सी बुक करने के चक्कर में महिला के खाते से ठग ने 39 हजार रुपये पार कर दिए। दूसरे मामलें में शादी का झांसा देकर युवती को पार्सल भेजने के बहाने ठग ने सवा चार लाख रुपये और ठगी की तीसरी घटना में फेसबुक दोस्त ने विवाहित महिला को महंगा गिफ्ट भेजने का लालच देकर पांच लाख रुपये ठग लिए।

न्यू राजेंद्र नगर पुलिस थाने से मिली जानकारी के मुताबिक न्यू राजेंद्र नगर निवासी विनीता छाबड़ा पति जितु प्रीतवानी (29) ने शिकायत दर्ज कराई कि आठ दिसंबर, 2020 को आनलाइन टैक्सी बुकिंग करने गूगल पर नंबर के लिए सर्च करने पर 18004129988 नंबर दिखाया। इस नंबर पर 10 दिसंबर को काल करने पर काल रिसीव करने वाले शख्स 10 रुपये ट्रांसफर करने एक लिंक भेजा। इस लिंक पर क्लिक कर विनीता ने एसबीआइ खाते से दस रुपये ट्रांसफर कर दिया। इसके बाद 9832934113, 689629326 नंबर से लगातार काल आने के साथ ही खाते से पैसे कटने लगे। पैसा आहरण होने का मैसेज देखकर विनीता ने तत्काल खाते को ब्लाक कराया, लेकिन तब तक 39 हजार रुपये खाते से पार हो चुके थे। जांच के बाद पुलिस ने एक महीने बाद धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया।

शादी का झांसा देकर सवा चार लाख रुपये ठगे

शादी करने भारत मेट्रीमानी साइट पर रजिस्ट्रेशन कराना रायपुर की एक युवती को भारी पड़ गया। अज्ञात ठग ने खुद को डाक्टर और गुजरात का रहने वाला बताकर शादी का झांसा दे गिफ्ट भेजने के बहाने आठ किस्तों में सवा चार लाख रुपये ठग लिए। शिकायत पर राजेंद्र नगर पुलिस ने धोखाधड़ी का अपराध कायम किया है। पुलिस के मुताबिक आम्रपाली सोसायटी निवासी किरन सिंह (28) ने शिकायत दर्ज कराई कि अपनी शादी के लिए भारत मेट्रीमानी में उसने बायोडाटा डालकर रजिस्ट्रेशन कराया था। 18 नवंबर, 2020 को उसी साइट में मैसेज के माध्यम से डा. रिजुल आनंद से किरण की बातचीत हुई। रिजुल ने खुद को डाक्टर व गुजरात का निवासी बताया। फिर मोबाइल नंबर 7466725852 से वाट्सएप काल पर लगातार बात करने लगा। वह शादी करने को तैयार था और रायपुर आकर स्वजनों से मिलकर बात करने को कहने लगा। इससे किरण उस पर भरोसा करने लगी। इसी दौरान आठ दिसंबर को काल करने रिजुल ने बताया कि वह अपने डाक्टरी पेशा की वजह से विदेश तुर्की जाने वाला है। अपना कुछ दस्तावेज एवं सामान मेरे पते पर भेज रहा है। विदेश से वापस आकर वह सामान वापस ले लेगा। 10 दिसंबर को काल कर उसे बताया गया कि एक पार्सल आया है उसे लेने के एवज में 26 हजार आठ सौ रुपये देना होगा। किरण ने बताए गए खाते में पैसा ट्रांसफर कर दिया। दो दिन बाद किरण के मेल में मैसेज आया कि पार्सल में विदेशी मुद्रा पाई गई जिस वजह से बीमा के लिए 76 हजार आठ सौ रुपये देना पड़ेगा। तब किरण ने 12 दिसंबर को फिर खाते में पैसा जमा किया बावजूद पार्सल नही आया। इसके बाद लगातार मेरे मेल पर पार्सल प्राप्त करने झांसा देकर कुल आठ किस्तों में कुल चार लाख 19 हजार आठ सौ रुपये ठग ने खाते में जमा करा लिया। बाद में उसने काल रिसीव करना भी बंद कर दिया।

फेसबुकिया दोस्त ने ठगे पांच लाख

राजेंद्र नगर इलाके के मारुति रेसीडेंसी निवासी श्रीमती जयंती सिंह (44) को फेसबुक दोस्त ने पांच लाख रुपये की चपत लगा दी। पुलिस के मुताबिक 12 दिसंबर, 2020 से 26 दिसंबर, 2020 के बीच जयंती सिंह का डा.रोनाल्ट क्रिस्टोफर नामक शख्स से फेसबुक पर परिचय हुआ था। आरोपित ने महंगा गिफ्ट भेजने का झांसा देकर पार्सल छुड़ाने के बहाने जयंती से कई किस्तों में अपने बैंक खाते में कुल पांच लाख रुपये जमा करा लिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस