रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

राज्य शासन द्वारा संचालित डॉ. खूबचन्द बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के 512 पैकेजों की दर बढ़ाई गई है। सप्ताहभर में इसे लागू किया जाएगा। अनुबंधित निजी अस्पतालों के द्वारा लंबे समय से उठाई जा रही कम दरों की दिक्कत को अब बहुत हद तक दूर होने की बात स्वास्थ्य विभाग कह रहा है।

राज्य शासन की महत्वाकांक्षी डीकेबीएसएसवाय में मरीज और अनुबंधित अस्पतालों की समस्या का ध्यान रखते हुए कार्य किया जा रहा है। योजना की नई दरों को सॉफ्टवेयर में अपलोड करने का काम भी शुरू हो गया है। सप्ताह भर में यह पूरा हो जाएगा और निजी अस्पताल इस नई दर के हिसाब से क्लेम कर सकेंगे।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि निजी अस्पतालों के समस्त लंबित भुगतान मार्च के प्रथम सप्ताह में किया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के निर्देश प्रक्रिया तेज कर दी गई है। योजना में जो भी दिक्कतें आ रही हैं, उन्हें दूर करने के लिए लगातार समीक्षा का दौर जारी है। इधर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की एक्शन कमेटी के चेयरमैन डॉ. महेश सिन्हा और डॉ. राजेश गुप्ता ने कहा कि जो ऑपरेशन बहुत होते हैं, उनका रेट स्वास्थ्य विभाग ने कम कर दिया है। जिन बीमारियों का बहुत कम इलाज होता है, उनका रेट बढ़ा दिया गया है।

वर्जन

डीकेबीएसएसवाय में निजी अनुबंधित अस्पतालों को आश्वस्त किया गया है कि वे योजना में सुचारू रूप से काम करते रहें। इसमें आ रही दिक्कतों को लगातार दूर किया जाएगा। इसके लिए मातहत अधिकारियों को निर्देश भी दिया गया है।- नीरज बंसोड़, संचालक, स्वास्थ्य सेवाएं

वर्जन

योजना के तहत बीमारियों के इलाज में लोगों को बेहतर लाभ मिले और निजी अस्पतालों को भी किसी तरह का नुकसान न हो, इसे लेकर लगातार मंथन चल रहा था। इसमें स्वास्थ्य मंत्री ने भी पहल की है। उनकी मंशा थी कि ऐसी दर निर्धारित हो, जिसमें किसी को भी नुकसान न उठाना पड़े। -डॉ. श्रीकांत राजिमवाले, डिप्टी डायरेक्टर, स्वास्थ्य बीमा योजना

-

Posted By: Nai Dunia News Network