रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Chhattisgarh News : राज्य के तमाम कॉलेज और विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष के परीक्षार्थियों को छोड़कर बाकी बची हुई वार्षिक और सेमेस्टर परीक्षाएं फिलहाल नहीं होगी। बाकी स्नातक और स्नातकोत्तर स्तर पर प्रथम और दूसरे वर्ष के परीक्षार्थियों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अंक मिलेंगे।

उच्च शिक्षा की की ओर से जारी आदेश के मुताबिक यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन) के निर्देश के अनुसार वार्षिक परीक्षा परीक्षा पद्वति में अंतिम वर्ष और सेमेस्टर परीक्षा में अंतिम सेमेस्टर के परीक्षार्थियों को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं के लिए वार्षिक व सेमेस्टर परीक्षा का आयोजन न करके परीक्षा परिणाम आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर बनाया जाएगा।

पंडित रविशंकर शुक्ल विवि के कुलपति डॉ. केशरीलाल वर्मा के मुताबिक विवि के पास आंतरिक मूल्यांकन या परीक्षा के लिए कई विकल्प दिए गए हैं। गौरतलब है कि एनएसयूआई के छात्रों ने छात्रसंघ अध्यक्ष आकाश शर्मा के नेतृत्व मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से लेकर उच्च शिक्षामंत्री व कुलपतियों से जनरल प्रमोशन की मांग की थी।

परिणाम बनाने के लिए तीन विकल्प

जिन विषयों की परीक्षा हो चुकी है उनका मूल्यांकन होगा जो बचे प्रश्न पत्र हैं उनके अंकों की गणना गत वर्ष के परिणाम या आंतरिक मूल्यांकन या असाइमेंट के आधार पर होगा। जो परीक्षार्थी श्रेणी सुधार करना चाहता है उसे अगले वर्ष या सेमेस्टर में विशेष परीक्षा की व्यवस्था होगी। यह व्यवस्था सिर्फ शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए मान्य होगी

ऐसे होगी अंतिम वर्ष वालों की परीक्षा

अंतिम वर्ष के परीक्षार्थियों की परीक्षा लॉकडाउन के बाद जुलाई में होगी । परीक्षा के दौरान छात्रों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा और उन्हें हैंड सैनिटाइज करना जरूरी होगा।

एक अगस्त से शिक्षा सत्र, सितंबर तक दाखिला : कॉलेजों में इस बार शिक्षा सत्र जून-जुलाई की बजाय अगस्त और सितंबर तक चलेगा। अगस्त में पुराने छात्र-छात्राओं और सितंबर में नए छात्रों के लिए दाखिले की प्रक्रिया होगी। सत्र 2020-21 का दाखिला ऑनलाइन किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना