रायपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आम आदमी पार्टी प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा कि प्रदेश चुनाव प्रभारी गोपाल राय और प्रदेश प्रभारी संजीव झा के मार्गदर्शन में भ्रष्टाचार, स्वास्थ्य और शिक्षा के मुद्दों को लेकर छत्तीसगढ़ में बड़ा अभियान शुरू करने की तैयारी युद्ध स्तर पर की जा रही है।

प्रदेश संगठन मंत्री भानु प्रकाश चंद्रा ने कहा कि पिछले एक माह में पार्टी ने राज्य के 10 हजार गांवों में अपना सांगठनिक ढांचा तैयार कर लिया है। एक लाख से अधिक नए सदस्य बनाए गए हैं। इतना ही नहीं, सभी विधानसभाओं में पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति की जा चुकी है, जो इस मजबूत संगठन को जमीनी स्तर पर कार्यशील और धारदार बनाएंगे। प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है, शिक्षा का स्तर बदहाल है और स्वास्थ्य सेवाएं सिर्फ खानापूर्ति के रूप में चल रही हैं, इसलिए आम आदमी पार्टी इन तीनों ही मुद्दों के साथ प्रदेशवासियों के पास जाएगी।

आरटीई से प्रवेशित बच्चों को निश्शुल्क पुस्तकें, गणवेश और लेखन सामग्री देना अनिवार्य

निजी विद्यालयों में निश्शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम (आरटीई) अंतर्गत विद्यार्थियों के लिए उच्च न्यायालय के पारित निर्णय को लेकर शासन ने आदेश जारी किया है। इसके अनुसार उन विद्यार्थियों को विद्यालयों के द्वारा निश्शुल्क पुस्तकें, गणवेश, लेखन सामग्री भी उपलब्ध कराना अनिवार्य है। आदेश में कहा गया है कि विभिन्ना माध्यमों से यह संज्ञान में आया है कि कुछ विद्यालयों द्वारा विद्यार्थियों को यह सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई जा रही हैं, जो उच्च न्यायालय और शासन के आदेशों का उल्लंघन है।

संचालक लोक शिक्षण ने सभी संभागीय संयुक्त संचालकों, जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जिन निजी विद्यालयों में आरटीई के तहत छात्र अध्ययनरत हैं उनकी मानिटरिंग करने के साथ शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन कराया जाए। गौरतलब है कि शासन द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी को उनके कार्य क्षेत्र में सक्षम अधिकारी घोषित किया गया है। संचालक लोक शिक्षण द्वारा यह भी निर्देशित किया गया है कि यदि कोई निजी विद्यालय नियमों का पालन नहीं करता है या उल्लंघन करता है तो अधिनियम के प्रविधान के अनुसार संबंधित विद्यालय के विरुद्ध कार्रवाई करें।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close