रायपुर। नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले आरोपित मुजाहिद अनवर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक रायपुर के थाना पंडरी में आरोपित मुजाहिद अनवर उर्फ एमडी अनवर ने अपने आपको अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा अंबिकापुर का बताकर सर्वेश्वर साय पैकरा के मोबाइल नंबर 96918-84531 में अप्रैल 2020 में लगातार फोन कर ग्राम पंचायत क्षेत्र की हालचाल पूछा करता था।

सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर जमा कराया था 23 लाख रुपये

1380 पद शासकीय नौकरी के लिए छत्तीसगढ में अंबिकापुर, बलरामपुर, सरगुजा एवं जशपुर जिले में डाटा एंट्री ऑपरेटर, कलर्क भृत्य एवं वाहन चालक पद पर सीधी भर्ती किए जाने का आश्वासन देकर अपने क्षेत्र के पढ़े-लिखे शिक्षित बेरोजगार युवक-युवती तथा नाते रिश्तेदारों का नाम पता भेजने तथा प्रत्येक पद का अलग-अलग रकम लगने की बात करते हुए सर्वेश्वर साय पैकरा एवं उसके नाते रिश्तेदारों से कुल 23,65,207 रुपये जमा करा लिया।

पैसे लेने के बाद नौकरी नहीं लगाने पर पूछताछ करने पर धोखाधड़ी की जानकारी हुई। पैसे से आरोपित ने दो इनोवा अपने भाई के नाम से खरीदा था एवं उक्त दोनों वाहन के साज सज्जा एवं मेंटनेस मे राशि खर्च किया था। पुलिस ने आरोपित के भाई से दो इनोवा जब्त किया है। गिरफ्तार आरोपित मुजाहिद अनवर से पुलिस पूछताछ कर रही है।

पहले भी नौकरी के नाम पर लोग हुए है ठगी के शिकार

छत्तीसगढ़ में एनएमडीसी में नौकरी लगाने के नाम पर बालोद जिले में पुलिस ने एक ठग को गिरफ्तार किया था। उसने आंगनबाड़ी की 18 महिलाओं को सुपरवाइजर पद पर पदोन्नति कराने के नाम पर 40-40 हजार रुपये जमा करा लिया था। ठगी की शिकार आंगनबाड़ी महिलाओं की शिकायत पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था।

Posted By: Sanjay Srivastava

NaiDunia Local
NaiDunia Local