रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

हर साल महादेवघाट में भव्य कार्तिक पुन्नी मेला का आयोजन होता है। मेला घूमने और हटकेश्वर महादेव का दर्शन करने के लिए हजारों लोगों की भीड़ उमड़ती है। जिला प्रशासन ने कोरोना महामारी को देखते हुए इस साल कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले पुन्नी मेला में किसी भी तरह की दुकान, झूला लगाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। ऐतिहासिक हटकेश्वर महादेव का दर्शन भक्तगण दो गज की दूरी रखकर कर सकेंगे। संपूर्ण मंदिर परिसर को सैनिटाइज करना होगा। मंदिर में प्रवेश से पहले मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

नियमों का पालन कराने की जिम्मेदारी नगर निगम की

अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी एनआर साहू ने 30 नवंबर को महादेवघाट पर मनाए जाने वाले कार्तिक पुन्नी मेला और मंदिर में पूजा करने के लिए नियम जारी किए हैं। इन नियमों का पालन करवाने की जिम्मेदारी नगर निगम और मंदिर प्रबंधन समिति, सामाजिक भवनों के ट्रस्टियों की होगी।

महादेवघाट किनारे इन नियमों का करना होगा पालन

0 कार्तिक पर्व की पूजा मंदिर के भीतर ही संपन्न होगी

0 सफेद गोले के भीतर दो गज की दूरी पर खड़े रहकर दर्शन करेंगे

0 पूजा स्थल पर जुलूस, रैली, सभा, सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होंगे

0 पान, गुटखा खाकर थूकने पर प्रतिबंध

0 महादेवघाट में बाजार, मेला, दुकान लगाने की अनुमति नहीं

0 ध्वनि विस्तारक यंत्र नहीं बजेंगे, प्रसाद नहीं बंटेगा

0 मंदिर में बच्चों, वृद्धों को प्रवेश नहीं

0 खारुन नदी में गहरे पानी में जाकर स्नान नहीं कर सकेंगे

0 मेला परिसर के सामाजिक भवनों, धर्मशाला में ठहरने की अनुमति नहीं

0 नगर निगम को पीने का पानी, गोताखोर, नौका की व्यवस्था करनी होगी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस