रायपुर। Corona Pandemic : राजनांदगांव जिले में दीपावली के दौरान मंद पड़ी कोरोना की गति एक बार फिर से तेज हो गई है। हर दिन सवा-डेढ़ सौ नए मरीज मिल रहे हैं। चिंता की बात यह भी है कि स्वस्थ होकर घर लौटने वालों की संख्या बहुत कम हो गई है। दोनों आंकड़े प्रशासन की चिंता तो बढ़ा ही रहे हैं, स्वास्थ्य विभाग के सामने नई चुनौती भी खड़ा कर रहे हैं। पिछले 10 दिनों में जांच कराने वालों की संख्या में भी कमी आई है।

पिछले हफ्ते कोरोना की रफ्तार अपेक्षा के अनुरूप ही थमती नजर आ रही थी। दीपावली के दौरान बाजार में उमड़ी भारी भीड़ और त्योहार के दौरान दिशा-निर्देशों की जिस तरह से धज्जियां उड़ीं, उसने संक्रमण की दर को फिर से बढ़ा दिया है। 15 नवंबर को मात्र 16 लोग ही संक्रमित हुए थे। उस दिन स्वस्थ होकर घर लौटने वालों का आंकड़ा 37 था। फिर 16 नवंबर को नए मरीजों की संख्या 91 थी। तब 221 लोग कोरोना को मात देकर घर लौटे थे।

उसके बाद से कोरोना संक्रमण के मामलों ने रफ्तार पकड़ ली है। साथ ही स्वस्थ होने वालों की संख्या में भी कमी आने लगी। 17 नवंबर को 148 नए मरीज सामने आए, जबकि मात्र 73 लोग ही ठीक हुए। 18 नवंबर को यह आंकड़ा क्रमश: 139 व 69 रहा। 19 नवंबर को 195 नए मरीज मिले, जबकि स्वस्थ होने वालों की संख्या मात्र 77 थी। 20 नवंबर को 175 की रिपोर्ट पाजिटिव आई, जबकि 147 मरीज ठीक होकर घर लौटे।

संक्रण की दर भी बढ़ी

जिले में कोरोना संक्रमण की दर एक बार फिर से बढ़ गई है। दीपावली के पहले हर दिन छह से सात फीसद लोग ही संक्रमित के रूप में सामने आ रहे थे। अब यह दर एक से चार प्रतिशत तक बढ़ गई है। 16 नवंबर को को कुल जांच में से 11.35 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई थी। 17 को यह दर 9.08 फीसद रही।18 को 7.25 लोग पाजिटिव मिले थे। 19 को संक्रमण की दर 7.95 प्रतिशत थी। शुक्रवार को जिले में 7.99 फीसद लोग संक्रमित पाए गए थे। एक दिन पहले यानी शनिवार को 6.87 प्रतिशत लोग कुल जांच के हिसाब से संक्रमित पाए गए थे।

कुल औसत दर भी चिंताजनक

कोरोना संक्रमण की अब तक की कुल जांच के हिसाब से जो दर बन रही है, वह भी चिंताजनक है। कुल एक लाख 39 हजार 840 लोगों की जांच हुई, जिसमें 14,414 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव रही है। यानी 10.33 प्रतिशत लोगों में कोरोना का संक्रमण पाया गया। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अब तक (21 नवंबर) 42,003 लोगों की आरटीपीसीआर जांच की जा चुकी है। इनमें 5,728 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव रही है। इसी तरह ट्रूनाट से 9,901 लोगों की जांच की गई, जिसमें से 817 लोग पाजिटिव रहे। रैपिड एंटीजन टेस्ट में 87,936 लोगों की जांच की गई, जिसमें से 7,869 की रिपोर्ट पाजिटिव रही है।

जागरूकता से ही जीत सकेंगे जंग

वरिष्ठ साहित्यकार और बूढ़ा सागर बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष मोहन अग्रहरि का कहना है कि कोरोना के खिलाफ जंग में जागरूकता ही सबसे बड़ा और एकमात्र कारगर हथियार है। इसके बिना विश्व व्यापी इस महामारी से निपट पाना संभव नहीं है। उनके अनुसार लोगों को पहले की ही तरह फिर से जागरूकता का परिचय देना होगा। बिना मास्क के घर से निकलना खतरनाक हो सकता है। शारीरिक दूरीके नियमों का पालन करना होगा। साथ ही जब तक बेहद जरूरी न हो, लोग घरों से न निकलें। अग्रहरि ने अपील की है कि थोड़ा सा भी लक्षण नजर आए तो तुरंत कोरोना की जांच कराएं।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. मिथलेश चौधरी ने बताया कि संक्रमण की दर रोकने हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। जांच की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है। लोगों को चाहिए कि वे भी जागरूकता का परिचय दें। तभी हम कोरोना को हरा सकेंगे।

डराने लगे हैं आंकड़े

तारीख- संक्रमित- स्वस्थ

21 नवंबर- 172- 99

20 नवंबर- 175- 147

19 नवंबर- 195- 77

18 नवंबर- 139- 69

17 नवंबर- 148- 73

16 नवंबर- 91- 221

15 नवंबर- 16- 37

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस