Agnipath protest in Chhattisgarh रायपुर (राज्य ब्यूरो)। केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस 27 जून को प्रदेश के सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में सत्याग्रह करने जा रही है। इस योजना की कमियों को जनता के बीच पहुंचाने के साथ ही कांग्रेसी योजना को वापस लेने की मांग को लेकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेगी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पाटन और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम कोंडागांव विधानसभा क्षेत्र में आयोजित सत्याग्रह में शामिल होंगे। दरअसल, कृषि कानून के विरोध में कांग्रेस प्रदेश में वह मंच हासिल नहीं कर पाई थी, जो चाहती थी। ऐसे में इस बार वह पिछड़ना नहीं चाहती है।

योजना को भी लेना होगा वापस

अग्निपथ योजना को लेकर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के दबाव के बाद जैसे तीन काले कानून को केंद्र सरकार ने माफी मांगकर वापस लिया, वैसे ही इस योजना को भी वापस लेना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसकी तो लोकसभा में चर्चा ही नहीं हुई है, पारित होना तो दूर की बात है। यह देश किसानों का है, जवानों का है।

भाजपा प्रदेशभर में बताएगी अग्निपथ के फायदे

कांग्रेस के विरोध के बीच भाजपा ने अग्निपथ योजना के फायदे बताने की तैयारी की है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि अग्निपथ योजना को लेकर विपक्षी दल भ्रम फैला रहे हैं। भाजपा के सांसद, विधायक और पार्टी पदाधिकारी निचले स्तर तक जागरूकता अभियान चलाएंगे। केंद्र सरकार ने युवाओं के बेहतर भविष्य को देखते हुए यह योजना शुरू करने का निर्णय लिया है। फोर्स की नौकरी के बाद रिटायर होने के बाद युवाओं के पास विकल्प खुले रहेंगे। नौकरी के साथ स्वरोजगार का अवसर भी मिलेगा।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close