Agnipath Protest रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अग्निपथ योजना को लेकर देश में चल रहे बवाल को लेकर रायपुर रेलवे स्टेशन पर चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। स्टेशन में किसी प्रकार की अनहोनी न हो, इसको लेकर सुबह से ही जीआरपी और आरपीएफ के अधिकारी व कर्मचारी स्टेशन में तैनात थे। पुलिस मुख्यालय में बैठे अधिकारी स्टेशन की गतिविधियों को लेकर पल-पल की जानकारी ले रहे थे। वहीं डीआइजी जीआरपी मिलना कुर्रे और मंडल सुरक्षा आयुक्त संजय गुप्ता ने स्वयं मोर्चा संभाला था, लेकिन रायपुर रेलवे स्टेशन में भारत बंद का असर देखने को नहीं मिला।

गौरतलब है कि राजधानी के रायपुर रेलवे स्टेशन में भारत बंद को लेकर सुबह से करीब 120 जीआरपी और आरपीएफ के अधिकारी और कर्मचारी तैनात कर दिए गए थे। रायपुर रेलवे स्टेशन प्रशासन सुरक्षा को लेकर पूरी तरह से मुस्तैद दिखाई दे रहा था। रेलवे स्टेशन में यात्रियों का आना-जाना लगा था। आरपीएफ और जीआरपी के जवान पूरी मुस्तैदी के साथ अग्निपथ का विरोध करने वालों पर नजर बनाए हुए थे। जीआरपी और आरपीएफ के जवान स्टेशन के प्लेटफार्म पर लगातार गश्त करते नजर आए।

अधिकारियों ने संभाला मोर्चा

रायपुर रेलवे स्टेशन की सुरक्षा को लेकर पुलिस के आलाधिकारी और जवान तैनात हैं। पूरी मुस्तैदी के साथ आरपीएफ और जीआरपी के जवान गश्त करते नजर आए। स्टेशन पर शांति व्यवस्था पूरी तरह से कायम थी। आरपीएफ रायपुर के थाना प्रभारी एमके मुखर्जी ने बताया कि पैदल गश्त भी की जा रही है। डीआजी मिलना कुर्रे और आरपीएफ के कमांडेंट संजय गुप्ता ने स्वयं जवानों के साथ पैदल गश्त की और यात्रियों को सुरक्षा का अहसास कराया। उन्होंने बताया कि स्टेशन में देर रात तक किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है और न ही होने दी जाएगी।

सोशल मीडिया पर रखी थी नजर

मंडल सुरक्षा आयुक्त संजय गुप्ता ने बताया कि स्टेशन में जहां आरपीएफ और जीआरपी के जवान वर्दी में गश्त कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ सिविल में जवानों की स्टेशन परिसर और प्लेटफार्म पर ड्यूटी लगाई थी। इसके साथ ही रेलवे का साइबर विभाग सोशल मीडिया पर कड़ी नजर बनाए हुए था, लेकिन रायपुर में किसी तरह की अप्रिय घटना नहीं हुई।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close