रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रायपुर शहर के पं.रविशंकर शुक्ल वार्ड क्रमांक 35 में केनाल लिंकिंग रोड पर लोटस हास्पिटल के सामने मार्ग के किनारे समाज सुधारिका देवी अहिल्या बाई होल्कर की स्मृतियों को चिरस्थायी बनाने शुक्रवार को उनकी मूर्ति का अनावरण किया गया। कृषि व संसदीय कार्य मंत्री और रायपुर जिला प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे अनावरण उपरांत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यह हम सबका सौभाग्य है कि रायपुर शहर में बद्रीनाथ, काशी विश्वनाथ, द्वारिकाधीष जैसे अनेक मंदिरों का जीर्णोद्धार करवाने वाली देवी अहिल्या बाई होलकर की मूर्ति का अनावरण हुआ है। अब हर वर्ष देवी अहिल्या का सादर नमन करने का अवसर सभी राजधानी वासियों को मिलेगा।

कृषि मंत्री ने कहा कि 15-20 सालों में रायपुर काफी विकसित हो गया है। नगर निगम ,स्मार्ट सिटी की टीम महापौर,सभापति की अगुवाई में जैसा कार्य कर रही है उससे निश्चित ही आने वाले समय में रायपुर देश का सबसे स्वच्छ और सुंदर शहर बनेगा। उन्होने कहा कि देवी अहिल्या बाई होल्कर के जीवन चरित्र को लेकर विचार रखना सूरज को दीया दिखलाने समान कार्य है। 1725 में जन्मी देवी अहिल्या बाई होल्कर रानी होकर भी सदैव सादा जीवन जीती रही।उन्होने सड़क निर्माण सहित सभी कार्यो में पूर्ण सदुपयोग किया।वे अद्म्य साहसी महिला थी।

मंत्री ने मंच पर अपने दिवंगत पति स्व. कृष्णा सावरकर की पुण्य स्मृति में समाज सुधारिका देवी अहिल्या बाई होल्कर की मूर्ति निगम को प्रदान करने पर वार्ड निवासी मालती बाई सावरकर का स्मृति चिन्ह,बुके देकर सम्मान करने के साथ वार्ड पार्षद व एमआइसी सदस्य आकाश तिवारी वराड़े धनगर समाज के पदाधिकारियों की सराहना की।महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि देवी अहिल्या को वीर बोला जाये तो भी वह उनके लिए कम है। उन्होंने कोरोना काल में लगातार वार्ड के लोगो को निःशुल्क सब्जियां बटवाने, दवा उपलब्ध करवाने के साथ अस्पताल ले जाने के सेवा कार्य का उल्लेख करते हुए सामाजिक संगठनों के सेवा भावना की विशेष सराहना की।

सभापति प्रमोद दुबे ने कहा कि मल्हार राव होल्कर की सुपुत्री एवं खंडे राव होल्कर की धर्मपत्नी देवी अहिल्या बाई होल्कर ने ही देश में जलसंकट दूर करने सबसे पहले कुंए खुदवाने,बावलियां बनवाने का कार्य प्रारंभ करवाया।मात्र 21 वर्ष की आयु में विधवा हो जाने वाली अदम्य साहसी महिला देवी अहिल्या बाई ने मुगल सेना द्वारा धर्मस्थलों की क्षति पहुंचाने किये गये आक्रमण से शिवलिंग को बचाने कुंए में कूद पड़ी थी। उत्तर विधायक कुलदीप सिंह जुनेजा और योग आयोग अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा ने देवी अहिल्या बाई होल्कर को सभी के सुख-दुख का साथी निरूपित किया। नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे ने कहा कि देवी अहिल्या बाई ने कई मंदिरों का उद्धार करवाया था।

सरकार ने उन पर डाक टिकिट भी जारी किया है।कार्यक्रम का संचालन जोन चार के कर्मचारी मोहम्मद खान, आभार प्रदर्शन वार्ड एमआइसी सदस्य आकाश तिवारी ने किया। इस मौके पर पद्मश्री एवं नगर निगम के स्वच्छता एंबेसडर मदन सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे, आयुक्त प्रभात मलिक, स्वास्थ्य विभाग अध्यक्ष नागभूषण राव, एल्डरमेन सुनील भुवाल, सुब्बा राव सावरकर, जोन कमिश्नर विनय मिश्रा, कार्यपालन अभियंता लोकेश चंद्रवंशी समेत अन्य मौजूद थे।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local