रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग भले ही हर दिन 10 हजार जांच की बात कह रही है, लेकिन सैंपल जांच के लिए तैयारियां धीमी गति से चल रही हैं। एक ओर जहां एम्स में कोरोना जांच के लिए महीने भर पहले पहुंच चुकी आरएनए मशीन को अब तक चालू नहीं किया गया है, वहीं स्वास्थ्य विभाग की तीन आरटीपीसीआर लैब का काम भी धीमी गति से चल रहा है।

बता दें कि प्रदेश में 4,556 से अधिक कोरोना के पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। इनमें सर्वाधिक मामले रायपुर में मिल रहे हैं। परिस्थितियों को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने हर दिन 10 हजार सैंपल जांच का लक्ष्य रखा है, लेकिन जिस तरह से व्यवस्था चल रही है, उसे देखते हुए यही कहा जा सकता है कि हर दिन इतने सैंपल की जांच के लिए व्यवस्था बनाने में समय लग सकता है। स्वास्थ्य विभाग ने जहां राजनांदगांव, बिलासपुर और अंबिकापुर में आरटीपीसीआर लैब अब तक शुरू नहीं की है, वहीं एम्स में भी कोरोना की जांच के लिए महीने भर से आई आरएनए एक्सट्रेशन मशीन से जांच अब तक शुरू नहीं हुई है। एम्स प्रबंधन ने बताया कि 24 घंटे कोरोना की जांच प्रक्रिया चल रही है। इसमें एक दिन में लगभग 1200 से 1400 तक सैंपल की जांच हो जाती है। वहीं आरएनए एक्सट्रेशन मशीन आने के बाद भी अब तक इसे शुरू नहीं किया गया है।

सिर्फ डेढ़ घंटे में मिलती रिपोर्ट

एम्स प्रबंधन ने बताया कि आरटीपीसीआर मशीन से जहां सैंपल जांच में चार से छह घंटे का समय लगाता है, वहीं आरएनए एक्सट्रेशन मशीन से सैंपल जाचं में डेढ़ घंटे का ही समय लगता है। ऐसे में इस मशीन से एक साथ 96 सैंपल टेस्ट हो सकते हैं। ऑटोमेटिक होने की वजह से मैनुअल इंटरवेंशन कम होता है, इसलिए तकनीशियन की भूमिका भी इसमें काफी कम बताई गई है।

वर्जन

एम्स में 24 घंटे सैंपल जांच की प्रक्रिया चल रही है। हमारे यहां औसतन लगभग 1200 से 1400 सैंपल जांचे जा रहे हैं। कोरोना मरीजों के इलाज के साथ यहां सैंपल देने के लिए पहुंचे वालों के लिए भी बेहतर व्यवस्था की गई है। आरएनए एक्सट्रेशन मशीन तो आई है, लेकिन संचालन हो रहा है या नहीं, यह देखना पड़ेगा।

- शिव शर्मा, पीआरओ, एम्स

वर्जन

अंबिकापुर, बिलासपुर और राजनांदगांव में आरटीपीसीआर लैब अब तैयार हो चुकी है। मशीनें भी पहुंच गई हैं। जल्द ही यहां से जांच सेवाएं शुरू कर दी जाएंगी। इसके अतिरिक्त प्रत्येक जिले में ट्रू-नॉट मशीन से भी सैंपल जांच की जाएगी। राजधानी के लालपुर लैब सहित बिलासपुर सहित कुछ जिलों में तो ट्रू-नॉट से जांच की शुरुआत कर दी गई है।

-सुभाष पांडेय, राज्य नोडल अधिकारी, कोरोना नियंत्रण अभियान

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan