रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रायपुर रेलवे स्टेशन में ओमिक्रोन को लेकर प्रशासन अलर्ट है। यहां पर अब यात्रियों की स्क्रीनिंग भी की जा रही है। तैनात किए गए मेडिकल स्टाफ यात्रियों से उनकी ट्रेवल हिस्ट्री भी पूछ रहे हैं। रोज बड़ी संख्या में कोरोना के टेस्ट भी किए जा रहे हैं।

रायपुर रेलवे स्टेशन के डायरेक्टर राकेश सिंह ने बताया कि कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर रेलवे अमले को भी अलर्ट किया गया है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश मिलने के बाद एक बार फिर से रेलवे स्टेशन में यात्रियों की सघन जांच शुरू कर दी गई है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ ही रेलवे के मेडिकल स्टाफ की स्टेशन के मुख्य गेट पर ड्यूटी लगाई गई है। यहां पर दूसरे राज्यों से आने आने वाले करीब दो हजार यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। इस दौरान किसी में लक्षण पाए गए तो उनका कोरोना टेस्ट भी कराया जा रहा है। रेलवे स्टेशन में करीब 10 हजार यात्री रोज विभिन्ना ट्रेनों से पहुंचते हैं।

दरअसल कई ऐसे विदेश यात्री भी हैं, जो मुंबई, दिल्ली, कोलकाता समेत अन्य महानगरों से एयरपोर्ट से उतर कर ट्रेनों में सफर कर शहर पहुंच रहे हैं। ऐसे में उनकी जांच को लेकर रेलवे की टीम पूरी तरह से अलर्ट है। बाहर से आने वाले यात्रियों के ट्रेवल हिस्ट्री भी पूछी जा रही है।

प्लेटफार्म पर भी स्क्रीनिंग टेस्ट

रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि ओमिक्रोन को देखते हुए स्टेशन के मुख्य गेट पर कोरोना स्क्रीनिंग टेस्ट शुरू किया गया है। यहां पर काउंटर बनाकर सुबह से लेकर देर शाम तक यात्रियों की जांच की जा रही है। इसके लिए रेलवे चिकित्सालय में अनुभवी चिकित्सक, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ 24 घंटे तैनात किए गए हैं। मेडिकल स्टाफ को नए वैरिएंट से संबंधित ताजा जानकारी से अपडेट कराते हुए विशेष रूप से प्रशिक्षित भी किया जा रहा है।

टीकाकरण कराने कर रहे प्रेरित

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए रेलवे की ओर से यात्रियों को टीकाकरण कराने के लिए भी प्रेरित भी किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम यात्रियों से टीकाकरण संबंधी जानकारी भी ले रही है। इस दौरान टीका नहीं लगाने वाले यात्रियों को सुरक्षित रहने के लिए टीकाकरण के लिए समझाया जा रहा है।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local