रायपुर (राज्य ब्यूरो)। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने वर्षाकाल में छत्‍तीसगढ़ के 19 जिलों के चिन्हांकित 193 पहुंचविहीन उचित मूल्य दुकानों के लिए राशन सामग्री चावल, चना, शक्कर, नमक और गुड़ का आवंटन जारी कर दिया है। इंद्रावती भवन, नवा रायपुर से इस आशय का पत्र संबंधित जिलों के कलेक्टरों और राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंध संचालक को भेज दिए गए हैं।

खाद्य विभाग ने कलेक्टरों और प्रबंध संचालक नागरिक आपूर्ति निगम को भेजा पत्र

पत्र में कहा गया है कि वर्ष 2022-23 में संबंधित जिलों से प्राप्त प्रस्ताव अनुसार वर्षाकाल मे पहुंचविहीन हो जाने वाले बीजापुर की चार शासकीय उचित मूल्य दुकानों में छह माह के लिए, सुकमा जिलों की 19 दुकानों में सात माह के लिए, धमतरी जिले की चार दुकानों में पांच माह के लिए, गरियाबंद की 11 पहुंचविहीन दुकानों में से एक दुकान में छह माह के लिए और विभिन्न् जिलों की शेष 155 उचित मूल्य दुकानों में चार माह की राशन सामग्री का अग्रिम भंडारण के लिए आवंटन जारी कर दिया है। इनमें 11,225.03 टन चावल, 459.77 टन चना, 259.80 टन शक्कर, 475.10 टन नमक और 291.43 टन गुड़ का आवंटन शामिल है।

आयकर राजपत्रित अधिकारी-कर्मचारी महासंघ की मांगों पर आज विचार

पिछले 78 दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे आयकर राजपत्रित अधिकारी और कर्मचारियों की मांगों पर सीबीडीटी शुक्रवार को विचार करेगा। केंद्रीय वित्त मंत्रालय के अवर सचिव विश्वजीत गुहा ने कहा कि संयुक्त परामर्शदात्री समिति की मांगों को लेकर सीबीडीटी चेयरमेन संगीता सिंह ने शुक्रवार को चार बजे दिल्ली में बैठक बुलाई है। महासंघ तीन सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध कर रहा है। इनकी मांगों में भर्ती नियमों में संशोधन, आइटीओ से एसीआइ के पदों पर पदोन्न्ति शुरू करने और इंटर सर्किल ट्रांसफर व्यवस्था फिर से शुरू करने की मांग है। यह तबादले वर्ष 2020 से बंद हैं।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close