रायपुर। Navratri 2021: राजधानी के अन्य देवी मंदिरों में जहां भक्तों की हजारों ज्योति प्रज्ज्वलित की जाती हैं। वहीं इसके विपरीत सत्ती बाजार स्थित अंबा देवी मंदिर एक मात्र ऐसा मंदिर है, जहां समाज के हजारों सदस्यों के नाम पर मात्र एक महाज्योति प्रज्ज्वलित की जाती है। यह परंपरा साल 1918 के आसपास जब मंदिर का निर्माण हुआ, तबसे यानी 100 साल से ज्यादा समय से चली आ रही है।

अंबा देवी मंदिर के पुजारी पंडित पुरुषोत्तम शर्मा के अनुसार शाकद्वीपिय ब्राह्मण समाज की इष्टदेवी अंबा माता मंदिर की स्थापना 1918 से लेकर 1920 के दौरान हुई थी। उस समय सामाजिक सदस्यों के नाम पर मात्र एक ज्योति प्रज्ज्वलित की गई थी। ऐसा कहा जाता है कि इसमें संपूर्ण समाज के लोगों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया था।

उस समय के ट्रस्टियों ने निर्णय लिया कि चैत्र नवरात्रि हो या क्वांर नवरात्रि , दोनों नवरात्रि में सामाजिक बंधुओं के नाम पर एक महाज्योति ही प्रज्वलित की जाएगी। सामाजिक सदस्यों से जो 75 रुपए वार्षिक सदस्यता ली जाती है, नियमों के अनुसार उस राशि के अंश से ही ज्योति प्रज्ज्वलित की जाती है।

मंदिर का संचालन भले ही शाकद्वीपिय ब्राह्मण समाज द्वारा किया जाता है, लेकिन इस मंदिर में दर्शन करने हजारों भक्त उमड़ते हैं। हर साल भक्तगण ज्योति प्रज्ज्वलित कराने पूछताछ करते हैं, लेकिन सालों पहले की परंपरा को आज भी निभाया जा रहा है। किसी भक्त की मनोकामना ज्योति नहीं जलाई जाती।

उग्र रूप नहीं, सौम्य रूप की पूजा

ज्यादातर मंदिरों में माता दुर्गा के विकराल रूप की पूजा की जाती है, लेकिन अंबा मंदिर में माता के सौम्य, सादगी रूप की पूजा होती है।

राजधानी में महाआरती प्रसिद्ध

अंबा मंदिर की महाआरती प्रसिद्ध है, प्रत्येक नवरात्रि की सप्तमी तिथि को महाआरती में सैकड़ों महिलाएं अपने घर से पूजा की थाल सजाकर लातीं हैं और मंदिर के प्रांगण में दूर-दूर तक महिलाएं खड़ी होकर सजी हुई थाल में 11 दीप सजाकर आरती करतीं हैं। कोरोना महामारी के चलते इस बार मंदिर में सादगी से आरती की गई।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags