रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के बेटे व मारवाही के पूर्व विधायक अमित जोगी के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। फिलहाल वे बिस्तर पर ही उठ और बैठ पा रहे हैं, लेकिन खड़े होने में बेहोशी और चक्कर आने लगता है। बालाजी अस्पताल ने अमित जोगी की स्वास्थ्य बुलेटिन जारी करते हुए बताया कि उन्हें पहले से चल रही दवाइयों का साइड इफेक्ट भी था, जिन्हें अब बदल दिया गया है।

नई दवाइयां चालू की गई हैं, जिससे उनकी स्थिति में तेजी में सुधार की गुंजाइश बनी हुई है। ऐसे में जाहिर है कि उन्हें एक या दो दिन में अगर उनकी स्थिति में सुधार होता है तो उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा सकता है। इनके इलाज के दौरान अस्पताल में जांच और एमआरआइ एवं होल्टर मॉनीटरिंग की रिपोर्ट नार्मल है। कैरोटिड डॉप्लर में स्मॉल कालसीफैडी प्लाक्यूक है।

डॉक्टर के मुताबिक अमित जोगी को 11 सितंबर की रात्रि 10 बजकर 45 मिनट पर लाया गया था। उस दौरान उन्हें कमजोरी, सांस लेने में तकलीफ, सर दर्द, यूरिन रिटेंशन इलेक्ट्रोलाइट, इन बैलेंस, अनइजिनेस, ब्रेडी कार्डिया जैसी दिक्कतें थी। अमित जोगी की माता व चिकित्सक डॉक्टर रेणु जोगी ने बताया की अमित अब सामान्य रूप से लेट और बैठ पा रहे हैं।

17 को गौरेला के न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेशी

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रवक्ता भगवानू नायक ने कहा कि 16 सितंबर को व्हीलचेयर पर ही डिस्चार्ज कर दें, ताकि वे परसों गौरेला के न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष अपनी पूर्व निर्धारित 17 सितंबर की पेशी और 16 सितंबर को न्यायिक मजिस्ट्रेट रायपुर के समक्ष अपनी पैरवी खुद कर सकें। अमित जोगी को मिर्गी जैसी शिकायत है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना