रायपुर। देशभर में करोड़ों की साइबर ठगी के मामले में झारखंड के गोड्डा जिले से गिरफ्तार कर रायपुर लाए गए शातिर ठग सुनील मंडल से पुलिस टीम पूछताछ कर रही है। सुनील ने 20 हजार से अधिक लोगों को काल करके ठगी की है। साइबर ठगी के लिए चर्चित जामताड़ा गिरोह के कई सदस्यों से सुनील के लिंक जुड़े निकले हैं, लिहाजा पुलिस उससे कई राज उगलवाने की कोशिश कर रही है। फिर गिरोह से जुड़े लोगों की घेराबंदी की जाएगी। सुनील ने मात्र आठवीं तक पढ़ाई की है, लेकिन उसका दिमाग काफी तेज है। उसने दो लाख रुपये देकर आनलाइन ठगी के नए-नए पैंतरे की ट्रेनिंग ली। कुछ दिन ट्रेनरों के साथ काम किया। उसके बाद खुद ठगी करने लगा।

भिखारियों के नाम पर खरीदे दर्जनभर सिम

बताया जाता है कि सुनील वहां के दो भिखारियों के नाम से एक दर्जन सिम कार्ड खरीदे। वहीं दूसरे राज्यों में जाकर मजदूरी करने वालों के नाम से खाता भी खुलवाया और उनका एटीएम कार्ड खुद रख लिया। वह भिखारियों को हर महीने हजार, दो हजार रुपये कमीशन भी देता था। इन्हीं खातों में ठगी का पैसा ट्रांसफर करता था। भिखारियों के नाम से लिए गए सिम कार्ड से ही काल करके वह देशभर के लोगों से ठगी करता रहा।

पुलिस टीम जिनके नाम पर सिम कार्ड है उनके पास पहुंची तो दो भिखारी मिले। तकनीकी जांच के आधार पर आखिरकार पुलिस टीम सुनील तक पहुंच गई। गौरतलब है कि फोन पे का केवाइसी अपडेट करने का झांसा देकर कबीर नगर इलाके की बुजुर्ग महिला उमा मिश्रा के एसबीआइ के खाते से 2.95 लाख रुपये आनलाइन ठगी सुनील ने की थी। महिला की शिकायत पर पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी थी।

ठगी के पैसे से खरीदा आलीशान मकान और बाइक

सुनील ने महिला से ठगे गए 2.95 लाख रुपये में से डेढ़ लाख की नई बाइक खरीदी है। ठगी के पैसे से ही उसने गोड्डा जिले में लाखों की लागत से आलीशान मकान खरीदा है। पुलिस आरोपित की चल-अचल संपत्ति की जानकारी जुटा रही है। पुलिस के अनुसार पहले वह एटीएम अपडेट करने का झांसा देकर ठगी करता था। उसके बाद केवाइसी अपडेट करने के नाम पर ठगी करने लगा। वह फोन नंबर की एक सीरीज उठाकर लोगों को काल करता था।

पार्सल के नाम पर भी कर चुका है ठगी

सुनील ठगी करने का पैटर्न लगातार बदलता रहा। कुछ लोगों से उसने पार्सल डिलीवरी का झांसा देकर ठगी की। उसके पास अभी भी ठगी के शिकार लोगों के काल आ रहे हैं।

एएसपी सिटी अभिषेक माहेश्वरी ने कहा, आनलाइन ठगी के आरोपित सुनील मंडल से पूछताछ में ठग गिरोह से जुड़े अन्य लोगों के बारे में अहम जानकारी मिली है। इसके आधार पर कुछ और सदस्यों की गिरफ्तारी करेंगे।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close