रायपुर। चार दिन पहले सरोना में हुई आटो चालक की हत्या में पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं। पुलिस ने दस से अधिक संदेहियों से पूछताछ की, पर इनसे कोई ठोस जानकारी नहीं मिल पाई। मृतक की हत्या की परिस्थिति के साथ उसकी जेब से मिली गांजे की पुड़िया से आशंका ये है कि उसके किसी परिचित के द्वारा की गई है। हत्या में दो अथवा उससे अधिक लोग शामिल हो सकते हैं। ये भी स्पष्ट है कि हत्या योजनाबद्ध ढंग से की गई है।

शनिवार की रात में हुई हत्या के बाद भैंसथान, सरोना के रहने वाले मृतक चंदन यादव के चेहरे की खाल खींच ली गई थी। उसकी जेब से मिले आइ कार्ड से उसकी पहचान हो पाई। पुलिस का अनुमान है कि उसके सिर पर किसी भारी वस्तु, पेचकस व जैक राड से हमला किया गया था। आशंका है कि हत्या के पीछे लेन-देन का विवाद हो सकता है। डीडीनगर थाना प्रभारी कुमार गौरव ने कहा कि जिस तरह से हत्या की गई है, उससे स्पष्ट है कि आरोपितों की उससे पुरानी दुश्मनी रही होगी।

नजदीकी है हत्यारा

थाना प्रभारी का कहना है कि हत्या करने वाला मृतक का नजदीकी है। उसने मृतक की पहचान छिपाने के लिए जानवरों की खाल खींचने वाले औजार से चंदन के चेहरे से लेकर गले तक की खाल को खींचकर निकाल दिया था। चंदन को आखिरी बार किसके साथ देखा गया था, इसके बारे में पता कर पुलिस कुछ संदेहियों से पूछताछ कर रही है।

ट्रक ड्राइवर की हत्या का भी नहीं खुला राज

दो महीने पहले कबीरनगर क्षेत्र के सोनडोंगरी में अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने एक ट्रक ड्राइवर के ऊपर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर उसकी हत्या कर दी थी। दर्जनभर से अधिक संदेहियों से पूछताछ करने के बाद भी पुलिस अब तक आरोपितों का पता नहीं लगा पाई है।

पुरानी बस्ती सीएसपी राजेश चौधरी ने कहा, अब तक की विवेचना में लेन-देन या फिर अवैध संबधों के चलते हत्या की आशंका है। आरोपितों को जल्द से जल्द पकड़ लिया जायेगा।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close