रायपुर। Ayurveda-Dietician Advice: आयुर्वेद में दवा के साथ योग, प्राणायाम का भी महत्व है। जो लोग कोरोना से ग्रसित हैं। अगर वे एलोपैथिक की जगह आयुर्वेद पद्धति से इलाज कराना चाहते हैं तो त्रिकटु चूर्ण सुबह और रात में दो बार सेवन करें। अमृता रिष्ट औषधि लें और तीसरा सबसे जरूरी उपाय भाप लेना है। भाप लेते समय गर्म पानी में हल्दी, सेंधा नमक डालें।

आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ.रश्मि चतुर्वेदी का कहना है कि हल्दी और सेंधा नमक युक्त पानी से दिन में तीन बार गरारा भी करें। अपना आत्मबल मजबूत रखें। कोई भी दवाई तभी कारगर होगी जब आप सकारात्मक सोचेंगे। इसके अलावा योग, प्राणायाम करें। 15 मिनट के प्राणायाम में शुरू के तीन मिनट अनुलोम, विलोम करें। इसमें एक नाक से श्वांस खींचकर दूसरे से बाहर निकालें। फिर दूसरे नाक से श्वांस खींचकर पहले नाक से बाहर निकालें।

यह क्रिया आराम से करें। जल्दी करने से परेशानी हो सकती है। अगले तीन मिनट कपालभाति करें। पेट को भीतर खींचकर श्वांस लें और छोड़ें। कम से कम 10 बार करें। इसी तरह तीन मिनट भ्रामरी प्राणायाम भी करें। श्वांस खींचकर नाक, मुंह, आंख बंद करके श्वांस छोड़ें और आवाज करें। आवाज भौंरे के गुनगुनाने की तरह निकलेगी। इससे दिमाग में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा। ओम मंत्र का उच्चारण भी शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएगा।

डायटिशियन सलाह-ऑक्सीजन लेवल सही रखने विटामिनयुक्त तरबूज, पपीता लें

कोरोना महामारी में इन दिनों सबसे ज्यादा परेशानी ऑक्सीजन लेवल कम होने की आ रही है। यदि लंग्स मजबूत हो तो इस परेशानी से छुटकारा मिल सकता है। लंग्स मजबूत करने के लिए विटामिन सी से भरपूर मौसमी फल तरबूज, पपीता, आंवला, नींबू, शिमला मिर्च का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए।

इससे रक्त दूषित नहीं होता और शरीर में रक्त की कमी भी नहीं होती। एनिमिया की परेशानी नहीं होती। इसके अलावा शरीर में विटामिन डी की कमी न हो इसलिए सुबह आधा घंटा धूप में बैठें। बालगोपाल के डॉ.शीला शर्मा ने बताया कि सूर्य की किरणों से विटामिन डी शरीर को मिलता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक होता है। गर्मी के दिनों में भूखे न रहें, पर्याप्त आहार का सेवन करें।

ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियां, मशरूम, प्रोटीन के लिए विविध तरह की दालें, चना, राजमां भी भोजन में अवश्य शामिल करें। काजू, किशमिश, बादाम, अखरोट खाने से शरीर को आवश्यक विटामिन मिलेगा। शरीर के लिए जिंक, सिलेनियम की पूर्ति अनाजों से होती है। जंक फूड, फास्ट फूड से दूरी बनाए रखें। अंडा और दूध का सेवन करने से रक्त की कमी नहीं होगी। इसके अलावा आयुष काढ़ा आधा कप सुबह, आधा कप शाम को पीएं।

Posted By: Azmat Ali

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags