रायपुर। Bageshwar Dham: राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी में बागेश्वर धाम के पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के दिव्‍य दरबार में रविवार को इस्‍लाम छोड़ हिंदू धर्म में वापसी की। बागेश्वर धाम के दरबार में पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने मुस्‍लिम महिला सुल्‍ताना का नामकरण किया। बिलासपुर से आई मुस्लिम महिला सुल्‍ताना का नाम अब शुभी हो गया है। इस बीच बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने मुस्लिम युवती से राखी बंधवाई और उसे सनातन धर्म में प्रवेश दिलाया। इसके बाद कथा प्रारंभ हुई। कथा 1 बजे प्रारंभ होने वाली 4 बजे प्रारंभ हुई।

मुस्लिम युवती सुल्‍ताना ने सनातन धर्म को बताया श्रेष्ठ

इससे पहले शनिवार को ओडिशा के तीन लोगों ने धर्म वापसी करके सनातन धर्म को अपनाने की घोषणा की। साथ ही एक मुस्लिम युवती ने भी हिंदू धर्म को अपनाने की घोषणा करते हुए कहा कि सनातन धर्म श्रेष्ठ है। इसमें भाई-बहन की शादी नहीं होती। तीन तलाक कहकर औरत को छोड़ नहीं दिया जाता। मंच से महाराज ने हिंदू धर्म में आने वालों का स्वागत किया। महाराज ने कहा कि मतांतरण करवाने वालों के चक्कर में न पड़ें।

रो पड़ी युवती, कहा - महाराज जी, आपको राखी बांधूगी

बिलासपुर से आई मुस्लिम युवती ने कहा कि वे रात्रि से ही पंडाल में अर्जी देने के लिए पहुंच गई थीं। उनकी अर्जी स्वीकार नहीं हुई, लेकिन वे अब हिंदू धर्म को अपनाना चाहती हैं। साथ ही महाराज को राखी बांधकर अपना भाई बनाना चाहती हैं। महाराज ने उसकी विनती स्वीकार की और राखी बंधवाई।

ओडिशा से आए एक परिवार के तीन लोगों को मंच पर ही महाराज ने पूछा कि वे किसी के दबाव में आकर तो हिंदू धर्म को नहीं अपना रहे, तब उन्होंने कहा कि वे बागेश्वर धाम से प्रेरित होकर हिंदू धर्म में वापसी कर रहे हैं, इससे पहले उन्होंने ईसाई धर्म स्वीकार किया था। वे अपने बीमार बेटे को लेकर पहुंचे थे।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close