रायपुर। Letter To CM: बैंककर्मिर्यों ने प्रदेश में चल रहे टीकाकरण अभियान में उन्हें प्राथमिकता देने की मांग की है। बैंक कर्मियों का कहना है कि कोरोना महामारी के दौरान इन्होंने भी कोरोना योद्धाधाओं की तरह आम जनता की सेवा की है। बैंक के बहुत से कर्मियों ने कोरोना काल में ड्यूटी करते हुए अपनी जान भी गवाई है। छत्तीसगढ़ बैंक एम्प्लाइज एसोसिएशन ने इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र भी लिखा है। एसोसिएशन के महासचिव शिरीष नलगुंडवार ने कहा कि बैंक कर्मचारी व उनके परिवार को भी टीकाकरण में प्राथमिकता देनी चाहिए।

महासचिव शिरीष नलगुंडवार ने बताया कि इसके साथ ही एसोसिएशन ने राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति के संयोजक को भी पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि केरल की तरह छत्तीसगढ़ में भी सप्ताह में तीन दिन बैंक खोलने की अनुमति दी जाए। अभी कोरोना को देखते हुए यह बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

इसके साथ ही पत्र में कहा गया है कि बैंकों का समय अब सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर दो बजे तक किया जाए। कम से कम स्टाफ बुलाकर काम हो। साथ ही गंभीर बीमारी से ग्रसित, गर्भवती व दिव्यांग बैंक कर्मी को कोरोना काल में घर से काम करने की छूट दी जाए।

इसके साथ ही बैंकों में स्थानीय भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस प्रशासन की सहायता ली जाए। उन्होंने कहा कि अभी कोरोना काल को देखते हुए ये सावधानियां बरतनी आवश्यक है। अभी लॉकडाउन के चलते भले ही बैंकों में भीड़ कम है, लेकिन लॉकडाउन हटते ही भीड़ काफी बढ़ जाएगी। इसके लिए ध्यान देना काफी जरूरी है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local