रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना काल में राजधानी में मौतों को आंकड़ा बढ़ गया है। पिछले साल जून से सितंबर के बीच 2371 लोगों की मौत हुई थी, लेकिन इस साल जून से लेकर अब तक 3106 लोगों की मौत हुई है। यानी इस वर्ष 32 फीसद अधिक मौतें हुईं। निगम के जन्म-मृत्य पंजीयन कार्यालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार इनमें सामान्य मौत के मामले अधिक हैं।

राजधानी में बीते चार महीनों में कोरोना का संक्रमण बढ़ने के साथ मरने वालों की संख्या भी बढ़ी है। राजधानी के प्रमुख शवदाह गृहों- देवेंद्र नगर, मारवाड़ी श्मशान घाट, महादेव घाट, गुढ़ियारी कोटा, शंकर नगर श्मशान घाट में रोज इन दिनों सात से आठ शव पहुंच रहे हैं। सामान्य दिनों में इन श्मशान घाटों में दो से तीन शव ही पहुंचते थे। मरने वालों की संख्या बढ़ने की वजह से नगर निगम के जन्म-मृत्यु पंजीयन कार्यालय में मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाने के लिए आवेदन भी अधिक आ रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार मरने वालों 60 साल से अधिक उम्र के लोगों की संख्या अधिक है। इनमें भी डायबिटीज और हाइपरटेंशन के मरीजों की संख्या ज्यादा है। कुछ मौतें 30 से 35 वर्ष के बीच के लोगों की हुई हैं।

ये कहते हैं मनोविज्ञानी

पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की मनोविज्ञानी प्रियंवदा श्रीवास्तव ने नईदुनिया से कहा कि कोरोना की वजह से मौतों के आंकड़े बढ़े हैं। वर्तमान स्थिति में दिनभर सिर्फ कोरोना के बारे में चर्चा हो रही है कि इतने मरीज पाए गए, इतने लोग मर गए। आस-पास कोरोना के मरीज मिलने के बाद लोग भयभीत हो जाते हैं। इसलिए लोगों की काउंसिलिंग बेहद जरूरी है। उन्होंने मास्क लगाने, हाथों को बार-बार धोने की सलाह देते हुए कहा कि मुंह और नाक को न छुएं।

मौत के आंकड़े

वर्ष 2019 वर्ष 2020

जून- 640 868

जुलाई-719 873

अगस्त- 453 694

सितंबर- 585 671 (अब तक)

वर्जन

पिछले साल जून से सितंबर की तुलना में इस साल इस बीच मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाने वालों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है।-नरेंद्र बंजारे, जन्म-मृत्यु पंजीयक, नगर निगम रायपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020