रायपुर। Bharat Bandh 2021 LIVE: जीएसटी के प्रावधानों के विरोध में कैट द्वारा कराए गए भारत बंद का असर शुक्रवार सुबह राजधानी की प्रमुख बाजारों में देखने को मिला। सुबह पांच बजे से ही जहां थोक सब्जी बाजार में गाड़ियों व कारोबारियों का आना शुरू हो जाता था। शुक्रवार को बंद के चलते सन्नाटा पसरा रहा।

डूमरतराई थोक सब्जी बाजार के साथ ही मालवीय रोड, गोलबाजार, टिकरापारा, गुढ़ियारी, एमजी रोड सहित प्रमुख बाजारों में सुबह 11 बजे तक सन्नाटा पसरा रहा। वहीं, शहर के बाहरी हिस्‍से की दुकानें खुली रहीं। जबकि शहर की प्रमुख बाजारों में सन्‍नाटा पसरा रहा।

इन मार्गों पर जहां सुबह 10.30 बजे तक दुकाने खुलनी शुरू हो जाती है। लेकिन बंद के चलते दुकानों के शटर में ताला लटका रहा। दुकानें बंद होने के कारण सड़कों पर भी सन्‍नाटा पसरा रहा। गौरतलब है कि कंफेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने जीएसटी व ईवे बिल नियमों के विरोध में बंद का यह आह्वान किया है।

कैट के इस बंद में प्रदेश के 100 से अधिक व्यापारिक संघों के साथ ही प्रदेश कांग्रेस का भी समर्थन प्राप्त है। कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी का कहना है कि यह बंद व्यापारियों के हित के ल‍िए किया जा रहा है और इसे करना जरूरी है। जीएसटी की विसंगतियों के कारण व्यापारियों की परेशानी और ज्यादा बढ़ गई है। कैट के इस बंद को देश भर के 40 हजार से अधिक व्यापारिक संघों का समर्थन है। हालांकि चेंबर आफ कामर्स ने इस बंद को अपना समर्थन नहीं दिया है।

खुले रहे पेट्रोल पंप

कैट के इस बंद में पेट्रोल पंप, दवा दुकानों के साथ ही स्कूल कालेज खुले रहे। इस बंद में आवश्यक सेवाओं को शामिल नहीं किया गया।

Posted By: Azmat Ali

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags