रायपुर। भाजपा ने निर्वाचन आयोग को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि गरियाबंद में आयोग कांग्रेस के एजेंट के रूप में काम कर रहा है। भाजपा प्रवक्ता और विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि महासमुंद लोकसभा में पक्षपात किया जा रहा है। सीईओ भाजपा की शिकायतों की अनदेखी कर रहे हैं और कांग्रेस के प्रत्याशी के पक्ष में काम करने के लिए गरियाबंद कलेक्टर अधिनस्थ कर्मचारियों पर दबाव डाल रहे हैं।

भाजपा प्रदेश कार्यालय एकात्म परिसर में गुरुवार को आयोजित पत्रकारवार्ता में श्रीचंद सुंदरानी ने महासमुंद से कांग्रेस प्रत्याशी अजीत जोगी के लिए कार्य करने का आरोप गरियाबंद कलेक्टर हेमंत पहारे पर लगाया है। उन्होंने कहा कि गरियाबंद कलेक्टर के अजीत जोगी से परिवारिक रिश्ते हैं और वे अजीत जोगी के मुख्यमंत्री काल में ओएसडी रहे हैं। श्री सुंदरानी ने आरोप लगाया कि कलेक्टर हेमंत पहारे अपने मातहत आदिम जाति, वन विभाग एवं पंचायत विभाग के कर्मचारियों को अजीत जोगी के पक्ष में कार्य करने का दबाव बना रहे हैं। अजीत जोगी की कार्यशैली भय, आतंक और खरीद फरोख्त की रही है। इससे यह भी स्पष्ट है कि अजीत जोगी महासमुंद सीट से जीत हासिल करने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं।

भाजपा की शिकायत की अनदेखी

श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि भाजपा महासमुंद प्रत्याशी चंदूलाल साहू ने चुनाव आयोग से शिकायत की है, लेकिन आयोग महासमुंद लोकसभा में निष्पक्ष चुनाव के लिए गंभीर नहीं है। अजीत जोगी की पत्नी खुलेआम आचार संहिता का उल्लंघन कर रही हैं।

10 साल कहां थे जोगी

भाजपा ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी से सवाल किया कि वे पिछले दस साल कहां थे। दस साल पहले लोकसभा चुनाव जीतने के बाद श्री जोगी महासमुंद कभी भी नहीं आए। अब उनको लगता है कि वे महासमुंद में भय और आतंक का माहौल बनाकर जीत दर्ज कर लेंगे।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags