रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने अग्निपथ के विरोध में कांग्रेस के धरना प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सवाल किया है कि वे स्पष्ट करें कि देश के लाखों युवाओं का भविष्य गढ़ने वाली अग्निपथ योजना और गोबर संग्रह के विकल्प में से कौन बेहतर है? ग्रामीण परिवेश में गोबर संग्रह से किसी को कोई आपत्ति नहीं है लेकिन सवाल यह है कि राजनीतिक विरोध के किये भूपेश बघेल युवाओं को भ्रमित क्यों कर रहे हैं?

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चुनौती दी है कि वे अग्निपथ और गोबर संग्रह के रोजगार में युवाओं के भविष्य पर जब जहां चाहें, खुली बहस कर लें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री दावा करते हैं कि गोबर बेचकर किसी ने मोटर साइकिल खरीद ली, कोई सम्पन्न हो गया, कोई प्लेन में सफर करने लगा, वे कहते हैं कि चरवाहे भी 30-35 हजार रुपये महीने कमा लेते हैं तो क्या वे विधानसभा के आगामी सत्र में इस पर पूरे तथ्य प्रस्तुत करने तैयार हैं?

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने सवाल किया कि कांग्रेस राज्य के पढ़े लिखे युवाओं को देश की सेवा करने से रोककर क्या संदेश देना चाहती है? युवा पीढ़ी को रोजगार और बेरोजगारी भत्ते का भरोसा देने वाले अब गोबर रोजगार से जोड़ कर आत्ममुग्धता के झंडे गाड़ रहे हैं। इन्हें युवाओं का भविष्य बर्बाद करने का हक किसने दे दिया?

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि कांग्रेस सेना का अपमान कर रही है। कांग्रेस का ड्रामा उसके देश विरोधी, सेना विरोधी और युवा विरोधी चरित्र को दर्शा रहा है। कांग्रेस के नेता चाहते हैं कि छत्तीसगढ़ का युवा इनकी तरह अपना स्वाभिमान बेच दे। कांग्रेस देश को कमजोर करना चाहती है। वह नहीं चाहती कि देश की सेना मजबूत हो। कांग्रेस नहीं चाहती कि युवा शक्ति देश की सेवा करे। कांग्रेस नहीं चाहती कि युवाओं को सुरक्षित भविष्य मिले।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि एक तरफ कानपुर में ऐलान हो रहा है कि मुस्लिम युवा देश की सेवा के लिए आगे आकर अग्निवीर बनें , कई धर्म गुरु इस योजना को देशहित मे बता रहे है लेकिन वही दूसरी तरफ कांग्रेसी देश की सेवा करने से युवाओं को रोकने के लिए असत्याग्रह कर रहे हैं।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close