रायपुर (राज्य ब्यूरो)। युवक कांग्रेस चुनाव में कुत्ते-बिल्ली को सदस्य बनाकर मतदान कराने के मामले में छत्तीसगढ़ का सियासी पारा चढ़ गया है। भाजपा ने कांग्रेस की नीयत पर सवाल खड़ा किया है। हाल यह है कि कांग्रेस का कोई भी बड़ा नेता सदस्यता अभियान के इस फर्जीवाड़े पर खुलकर बोलने को तैयार नहीं है।

नईदुनिया ने 14 जून को पहली खबर प्रकाशित कर इस फर्जीवाड़े का भंडाफोड़ किया था, वहीं स्क्रूटनी पर तीन लाख से ज्यादा सदस्यों की फोटो गलत पाई गई, जिसे सिरे से रद कर दिया गया। वहीं छह लाख संदिग्ध सदस्यता को फिलहाल रोक दिया गया है। इस पर छह अगस्त को खबर प्रकाशित की। भाजपा नेताओं ने इसे संज्ञान में लेकर कांग्रेस पर हमला बोल दिया है।

पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने मीडिया से चर्चा में कहा कि कांग्रेस पार्टी ने कुत्ते, बिल्ली, पशु-पक्षी सबको अपना वोटर मान लिया है। कांग्रेस नेताओं के वीडियो चल रहे हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ता भी अब इंटरनेट मीडिया पर खुलकर बोल रहे हैं। अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस में अभी ब्लाक अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है। इसमें कई जगह से यह जानकारी आ रही है कि ब्लाक अध्यक्ष बनवाने के लिए दो लाख रुपये मांगा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने ही कार्यकर्ताओं के साथ में धोखाधड़ी कर रही है। यह उसके विनाश का कारण बनेगा। पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने ट्वीट किया कि यह चिंता का विषय है कि देश के सबसे पुराने राजनीतिक दल का भविष्य फर्जीवाड़े में माहिर हो गया है। यही युवा कल कांग्रेस नेता बनेंगे और भ्रष्ट सरकार बनाने का ख्वाब देखेंगे, इसलिए भी कांग्रेस मुक्त राष्ट्र का अभियान जरूरी है।

युवा कांग्रेसियों ने कहां से सीखा गोलमाल का हुनर

भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी नलिनेश ठोकने ने सवाल किया कि युवक कांग्रेस के नेताओं ने गोलमाल का यह हुनर कहां से सीखा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के घोटालेबाज नेताओं ने युवा पीढ़ी तक को अपना वंशानुगत रोग लगा दिया है। कसूर इन युवा कांग्रेसियों का नहीं है। वे उसी राह पर चल रहे हैं, जो उन्हें उनके वरिष्ठों और बुजुर्गों ने दिखाया है। कांग्रेस के बच्चों में भी बूढ़ी कांग्रेस के अवगुण समा गए हैं।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close