रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। बीते कई दिनों से लगातार हो रही वर्षा के थमने के बाद जहां बाढ़ का पानी उतरने लगा है वहीं, उमस के कारण लोग परेशान हो रहे हैं। दिन की तेज धूप से ऐसा लग ही नहीं रहा है कि भादो का माह चल रहा हो। वहीं, उमस के चलते पसीना निकलने लगा है। वर्षा के कारण जहां मौसम ठंडा हो गया था। वहीं, अब फिर से पंखे-कूलर चलने लग गए हैं। इस बीच मौसम विभाग ने गुरुवार से मौसम में फिर से परिवर्तन होने की संभावना जताई है। विशेषज्ञों ने कहा कि हल्की वर्षा की संभावना बन रही है।

प्रदेश में विगत तीन दिनों से हो रही अनवरत वर्षा के थमते ही रायपुर समेत प्रदेशभर में तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है, जिससे उमस बढ़ गई है। बुधवार को रायपुर का अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में बन रहे कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव से शुक्रवार से प्रदेशभर में लगातार वर्षा शुरू होने के आसार हैं।

गुरुवार को भी प्रदेश में हल्की से मध्यम वर्षा होगी। कुछ क्षेत्रों में आकाशीय बिजली भी गिर सकती है। बुधवार को सुबह से ही रायपुर समेत प्रदेशभर में मौसम सामान्य रहा और तेज धूप निकली। रायपुर का अधिकतम तापमान 33.5 डिग्री और न्यूनतम 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रदेशभर में एआरजी कुरुद में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 34.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

प्रदेश भर में थमी रही वर्षा

बीते कई दिनों से लगातार हो रही वर्षा के थमने के बाद सक्ती-चांपा में एक सेमी वर्षा हुई। इनके साथ ही प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा दर्ज की गई।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि मानसून द्रोणिका के प्रभाव के साथ ही उत्तर बंगाल की खाड़ी के ऊपर शुक्रवार तक एक निम्न दाब का क्षेत्र बन रहा है।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close