रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दक्षिण-पश्चिम मानसून इस बार छत्तीसगढ़ में खब बरसा। एक जून से लेकर 30 सितंबर तक यानि 120 दिनों में प्रदेश भर में 1274.5 मिमी वर्षा हुई, जो सामान्य से 12 प्रतिशत अधिक है। बताया जा रहा है कि इस वर्ष 120 दिनों में हुई यह वर्षा पिछले वर्ष 2021 की तुलना में 167.5 मिमी अधिक है।

इस बार छत्तीसगढ़ के 11 जिलों में सामान्य से अधिक वर्षा हुई है। हालांकि इसमें सरगुजा संभाग के चार जिले ऐसे हैं जहां सामान्य से कम वर्षा हुई है। मौसम विभाग का कहना है कि मानसून अब अपने विदाई की ओर है और अगले कुछ दिनों में इसकी विदाई शुरू हो सकती है।

शुक्रवार सुबह से ही रायपुर सहित प्रदेश भर में मौसम सामान्य रहा और आंशिक रूप से बादल छाए रहे। कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा भी हुई। अधिकतम व न्यूनतम तापमानों में विशेष बदलाव नहीं हुआ। अब तक बीजापुर में सर्वाधिक 2515.9 मिमी वर्षा हुई है और सरगुजा में सबसे कम 642.7 मिमी वर्षा हुई है। रायपुर में 892.1 मिमी वर्षा हुई है। प्रदेश भर में अभी तक एक जिले में अति भारी वर्षा, 11 जिले में सामान्य से अधिक वर्षा, 11 जिले में सामान्य और चार जिले में कम वर्षा हुई है।


यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि मानसून की विदाई रेखा जम्मू, उना, चंडीगढ़, करनाल, बागपत, दिल्ली, अलवर, जोधपुर और नालिया है। उन्होंने बताया कि एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी तटीय आंध्रप्रदेश के ऊपर है। इसके प्रभाव से शनिवार एक अक्टूबर को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close