रायपुर। CGBSE 10th Result 2022 Toppers: छत्‍तीसगढ़ माध्‍यमिक शिक्षा मंडल के 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के परिणामों का इंतजार कर रहे लाखों छात्रों के लिए खुशखबरी है। छत्‍तीसगढ़ बोर्ड ने शनिवार दोपहर 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा 2022 के परिणामों की घोषणा कर दी है। यहां इस खबर में हम आपको छत्‍तीसगढ़ बोर्ड के 10वीं के टॉपर्स की जानकारी और उनकी सफलता की कहानी के बारे बता रहे हैं।

शासकीय अधिकारी बनना चाहते हैं भूपेश

धमतरी छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में टॉप-10 में जगह बनाने वाले धमतरी जिले के मगरलोड ब्लाक के ग्राम बोरसी निवासी भूपेश कुमार गजेंद्र गणित विषय लेकर आगे की पढ़ाई कर शासकीय अधिकारी बनना चाहते हैं। नौवीं रैंक प्राप्त भूपेश प्रतिदिन सुबह व रात में कुल पांच से छह घंटे की पढ़ाई करते थे। पिता वीरमणि गजेंद्र पेशे से चिकित्सक हैं। वर्तमान में वे शासकीय उमावि बोरसी में अध्ययनरत हैं। कक्षा दसवीं में 600 में से 582 अंक मिले हैं। जिनका प्रतिशत 97.00 है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों व परिवारजनों को दिया है।

इसरो में जाना चाहता है विवेक देवांगन

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में टॉप-10 में जगह बनाने वाले धमतरी निवासी विवेक देवांगन अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं। उनका पहला लक्ष्य इसरो को ज्वाइन करना है। पांचवीं रैंक प्राप्त विवेक प्रतिदिन देर रात व सुबह कुल पांच से छह घंटे की पढ़ाई करते थे। विवेक शुरू से मेधावी हैं। पिता गजेंद्र देवांगन शिक्षक हैं। वर्तमान में वे अजीम प्रेमजी हाई स्कूल शंकरदाह में अध्ययनरत हैं। कक्षा दसवीं में 600 में से 586 अंक मिले हैं। जिनका प्रतिशत 97.67 है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों व परिवार जनों को दिया है।

आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं वोकेश

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में टॉप-10 में जगह बनाने वाले धमतरी जिले के कुरुद ब्लाक के ग्राम तर्रागोंदी निवासी वोकेश कुमार साहू आगे पढ़ाई कर आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं। आठवीं रैंक प्राप्त वोकेश प्रतिदिन पांच से छह घंटे की पढ़ाई करते थे। पिता हेमंत साहू किसान व माता गृहणी हैं। वर्तमान में वे शासकीय उमावि तर्रागोंदी में अध्ययनरत हैं। कक्षा दसवीं में 600 में से 583 अंक मिले हैं। जिनका प्रतिशत 97.17 है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों व परिवारजनों को दिया है।

नक्सल प्रभवित क्षेत्र के सोनाली ने दसवीं बोर्ड में किया टॉप, बनना चाहती हैं डाक्टर

दसवीं बोर्ड के नतीजे घोषित हो गए हैं। कांकेर जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र के ग्राम गोण्डाहुर की छात्रा सोनाली बाला ने दसवीं की परीक्षा में 592 अंक हासिल कर संयुक्त रूप से छत्तीसगढ़ में टॉप किया है। सोनाली गोण्डाहुर के शासकीय स्कूल की छात्रा है। सोनाली ने बताया कि कोरोना काल मे पढ़ाई काफी प्रभावित रही , लेकिन उन्होंने पढ़ाई निरंतर जारी रखी।

वह रोजाना 8 घंटे पढ़ाई करती थी।

पढ़ाई में माता-पिता और स्कूल के शिक्षकों का विशेष सहयोग रहा, तब जाकर उन्हें कामयाबी मिली। सोनाली 11वी में बायोलॉजी लेकर पढ़ाई करना चाहती है और डॉक्टर बनना चाहती है। जिसके लिए वह अब नीट की तैयारी करेंगी।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local