रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

हजरत सैय्यद चांद शाह वली रहमतुल्लाह अलैह (तीन मजार) नलघर चौक छोटापारा का 41वां सालाना उर्सपाक धूमधाम से मनाया जा रहा है। उर्सपाक तीन दिनों तक चलेगा। पहले दिन रविवार को शाही संदल अकीदत के साथ निकाला गया। संदल महबूबिया चौक, बैजनाथ पारा, बंजारी वाले बाबा के मजार होते हुए वापस आस्ताने पहुंचा, जहां संदल पेश किया गया। यहां लोगों और प्रदेश की खुशहाली के लिए दुआ मांगी गई। रात में कव्वाली की महफिल सजी, साथ ही तकरीरी प्रोग्राम रखा गया। इसमें शहर के कव्वालों ने अपने कलाम पेश किए। भर दो झोली मेरी या मोहम्मद..., ख्वाजा मेरे ख्वाजा दिल में समा जा..., जैसे कई कलाम पेश किए गए। तकरीरी प्रोग्राम में कारी इमरान और कारी मुकीमुल कादरी ने तकरीर किया, जिसमें इस्लाम और दिन के बारे में बताया। लोगों को इंसानियत का पाठ पढ़ाया। आस्ताने के खादिम ने बताया कि बाबा का हर साल उर्सपाक मनाया जाता है। इस साल भी तीन दिवसीय उर्सपाक मनाया जा रहा है। दूसरे दिन सोमवार को समा महफिल का आयोजन किया जाएगा। वहीं 23 जुलाई को सुबह लंगर की व्यवस्था की जाएगी।