रायपुर। Chaturmaas 2020: हर साल चातुर्मास में 120 दिनों से लेकर 125 दिनों तक जैन साधु साध्वी 24 तीर्थंकरों के संदेशों पर चलने और जीव हत्या नहीं करने का संदेश देते थे। इस साल यह रिकॉर्ड टूट गया। इस बार चातुर्मास के दौरान पुरुषोत्तम मास पड़ने से 157 दिनों तक चातुर्मास मनाया जा रहा है। इसका समापन 30 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा पर होगा। एमजी रोड स्थित जैन दादाबाड़ी में इतने लंबे समय तक लगातार प्रवचन ने राजधानी में रिकॉर्ड बना दिया है।

50 साल के इतिहास में पहली बार लंबे समय तक प्रवचन

श्री जैन श्वेताम्बर चातुर्मास समिति के अध्यक्ष सुरेश भंसाली एवं प्रचार प्रभारी तरुण कोचर बताते हैं कि पिछले 50 साल के इतिहास में चातुर्मास पांच महीने तक नहीं मनाया गया। इतने सालों में यह पहला मौका है जब साध्वी सम्यक दर्शना श्रीजी के सान्निध्य में 157 दिनों तक प्रवचन की गंगा बही है।

कोरोना महामारी की लहर भी नहीं रोक पाई आस्था

श्री जैन श्वेताम्बर चातुर्मास समिति के कोषाध्यक्ष दीपचंद कोटड़िया बताते हैं कि चातुर्मास के पहले कोरोना महामारी का प्रकोप छाया हुआ था। ऐसे में चातुर्मास पर संकट का साया मंडरा रहा था। प्रशासन ने कुछ नियमों के साथ प्रवचन की अनुमति दी थी। मात्र 50 लोग ही चातुर्मास स्थल पर दूरी बनाकर बैठ सकते थे। ऐसे में साध्वी सम्यक दर्शनाश्रीजी ने निर्णय लिया कि समिति के सदस्य ही प्रवचन स्थल पर मौजूद रहें और इसका प्रसारण इंटरनेट मीडिया से किया जाए ताकि लोग घर पर ही प्रवचन लाभ ले सकें। इस युक्ति ने असर दिखाया और महामारी के नियमों के चलते जो लोग प्रवचन स्थल नही पहुंच पा रहे थे, उन्हें घर पर रहकर प्रवचन सुनने का मौका मिला।

चातुर्मास समापन समारोह 29 को

श्री जैन श्वेताम्बर चातुर्मास समिति के अध्यक्ष सुरेश भंसाली एवं महासचिव पारस पारख ने बताया कि कार्तिक सुदी चतुर्दशी, 29 नवंबर को सुबह 8.30 बजे से चातुर्मास समापन समारोह का आयोजन होगा। चातुर्मास को सफल करने में योगदान देने वाले सेवाभावियों, प्रबुद्धजनों का बहुमान किया जाएगा। इसके उपरांत सामूहिक सूत्र एकासना तप का अनुष्ठान रखा गया है।

कार्तिक पूनम का वरघोड़ा 30 को

कार्तिक सुदी सोमवती पूर्णिमा 30 नवंबर को सुबह 7.30 बजे सदर बाजार जैन मंदिर से परमात्मा की पालकी के साथ वरघोड़ा निकाला जाएगा। साध्वी भगवंत के सान्निध्य में कार्तिक पूर्णिमा की क्रियाविधि, प्रवचन एवं शत्रुंजय तीर्थ की भावयात्रा का कार्यक्रम दादाबाड़ी में होगा।

इसी दिन विहार करेंगी साध्वी गण

30 नवंबर को ही साध्वी भगवंत एवं साध्वी मंडल पांच माह के वर्षावास चातुर्मास को पूर्ण कर दादाबाड़ी से दोपहर में विहार कर सदर जैन मंदिर स्थित उपाश्रय में पधारेंगे।

फेसबुक पर प्रसारण

संपूर्ण चातुर्मास के प्रारंभ से लेकर अब तक फेसबुक लाइव के चातुर्मास समिति रायपुर एकाउंट पर जिनवाणी प्रवचन के लाइव प्रसारण को दुनियाभर में हजारों लोगों ने देखा। इस लाइव प्रसारण सेवा में समिति के विनय भंसाली, जिनेश गोलछा का प्रमुख सहयोग रहा।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस