रायपुर। राज्य आर्थिक अपराध और अन्वेषण ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) और एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की संयुक्त टीम ने मंगलवार को बेमेतरा, सूरजपुर और बिलासपुर में छापामार कार्रवाई कर एक महिला पटवारी समेत तीन अधिकारियों को रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। तीनों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। इस सफल कार्रवाई के लिए एसीबी की टीमों को बधाई देते हुए 10-10 हजार रुपये नकद इनाम देने की घोषणा डीआइजी ने की है।

ईओडल्यू और एसीबी छत्तीसगढ़ के डीआइजी आरिफ शेख ने बताया कि एसपी सदानंद कुमार के पर्यवेक्षण में मंगलवार को एंटी करप्शन ब्यूरो, रायपुर, अंबिकापुर एवं बिलासपुर की टीम ने एक साथ तीन घूसखोर अधिकारियों को रिश्वत लेते पकड़ा। एसीबी के निशाने पर विभिन्न सरकारी विभागों के 25 से अधिक अधिकारी हैं। इनके खिलाफ भ्रष्टाचार व रिश्वत मांगने की शिकायत मिली है। आने वाले समय में इनके खिलाफ भी कार्रवाई करने की तैयारी की जा रही है।

केस वन

बिलासपुर जिले के ग्राम भदौरा के सरपंच प्रतिनिधि विजय कुमार राजगीर (50)ने एसीबी बिलासपुर में लिखित शिकायत दी थी कि कि केंद्र सरकार की रूर्बन मिशन योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायत भदौरा में स्टाप डेम, स्कूल पानी टंकी के शेड निर्माण एवं गांव में तीन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के लिये 14 लाख रुपये की राशि स्वीकृत की गई थी।

प्रथम किस्त जारी करने के एवज में रूर्बन मिशन जिला पंचायत बिलासपुर के समन्वयक नवीन कुमार देवांगन ने पांच फीसद राशि 35 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। विजय ने रिश्वत देकर काम कराने के बजाय उसे रंगेहाथ पकड़वाने की ठानी। शिकायत मिलने पर एसीबी बिलासपुर की टीम ने सत्यापन किया। मंगलवार को विजय के हाथों 35 हजार रुपये नवीन देवांगन को दिलवाया। उसके बाद इशारा मिलते ही एसीबी ने रिश्वत लेते उसे रंगेहाथ पकड़ लिया।

केस टू

सूरजपुर जिले की रेलवे कालोनी कंरजी स्थित पूर्व माध्यमिक शाला के प्रधान पाठक ओमप्रकाश योगी ने एसीबी कार्यालय अंबिकापुर में शिकायत दर्ज कराई कि लॉकडाउन अवधि का वेतन निकालने के एवज में सूरजपुर बीईओ कपूरचंद साहू आधा वेतन यानी 30 हजार रुपये मांग रहे हैं। ओमप्रकाश के निवेदन करने पर बीईओ ने 5 हजार रुपये कम देने को कहा। इसकी शिकायत मिलने पर एसीबी की टीम ने अंबिका पेट्रोल पंप परिसर में ओमप्रकाश के जरिए बीईओ कपूरचंद साहू को 25 हजार रुपये दिलवाए। पैसा हाथ में लेते ही टीम ने कपूरचंद को धर दबोचा।

केस थ्री

बेमेतरा जिले के नवागढ़ क्षेत्र के ग्राम गोपालपुर निवासी नरेंद्र चतुर्वेदी (28) ने एसपी एसीबी रायपुर से शिकायत की कि उनके पिता स्व.भागवत चतुर्वेदी की मौत होने के बाद उनके नाम से धारित कृषि भूमि को फौती उठाकर अपने, अपनी मां तथा भाई के नाम पर दर्ज कराने के एवज में अंधियार खोर की महिला पटवारी श्रीमती लोचन साहू 7500 रुपये रिश्वत मांग रही हैं।

रकम अधिक होने की बात कहने पर अंत में वह 2800 रुपये लेने को राजी हो गई। शिकायत पर एसीबी की संयुक्त टीम ने सामुदायिक भवन पटवारी कार्यालय अंधियार खोर नवागढ़ में 2800 रुपये रिश्वत लेते पटवारी लोचन साहू को रंगेहाथ पकड़ लिया।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan