रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रदेश के स्कूलों में शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए प्रार्थना सभा के संबंध में निर्देश जारी किए गए हैं। इसके अनुसार विद्यार्थियों द्वारा प्रार्थना सभा की शुरूआत राष्ट्रगान से होगी, जिसके बाद राज्यगीत अरपा पैरी के धार... अनिवार्य किया गया है। प्रार्थना सभा में राज्यगीत के लिए एक मिनट 15 सेकेंड, शपथ के लिए एक मिनट, प्रेरणा गीत के लिए दो मिनट, समाचार पत्र वाचन के लिए पांच मिनट, नैतिक व प्रेरक कहानी के लिए पांच मिनट और राष्ट्रगान के लिए 52 सेकंड का समय निर्धारित किया गया है।

प्रार्थना सभा का आयोजन निर्धारित समयावधि में शाला की उच्चतम कक्षा में अध्ययन करने वाले उन पांच विद्यार्थियों द्वारा किया जाएगा, जिन्होंने मासिक आकलन के दौरान अपनी कक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त किए हैं। इसी आधार पर प्रतिमाह प्रार्थना सभा के आयोजन के लिए विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा।

शाला नायक द्वारा विद्यार्थियों को देश और प्रदेश की एकता समृद्धि के लिए शपथ दिलाई जाएगी। विद्यार्थियों द्वारा कोई भी एक प्रेरणा गीत गाया जाएगा। जैसे-इतनी शक्ति हमें देना दाता---। विद्यार्थियों द्वारा समाचार पत्र से सामान्य ज्ञान तथा राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के मुख्य बिन्दुओं का वाचन किया जाएगा। विद्यार्थियों द्वारा प्रतिदिन नैतिक या प्रेरक कहानी सुनाई जाएगी। विद्यार्थियों द्वारा राष्ट्रगान के साथ प्रार्थना सभा का समापन किया जाएगा।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close