रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्‍तीसगढ़ में अब सात फरवरी तक समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए शनिवार को यह घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। प्रदेश सरकार हर हाल में अपने किसानों के साथ है।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को अपने निवास कार्यालय में धान खरीदी की समीक्षा की। वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई इस बैठक में बघेल ने अधिकारियों को सीधे सोसायटियों से मिलर्स द्वारा धान का उठाव किए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इससे उपार्जित धान के परिवहन व्यय बचने के साथ ही कस्टम मिलिंग तेजी से आएगी। मुख्यमंत्री ने अप्रैल तक शत-प्रतिशत धान का उठाव सुनिश्चित करने के साथ ही कस्टम मिलिंग के काम मेें तेजी लाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने धान के उपार्जन के साथ-साथ किसानों की राशि के भुगतान का भी विशेष रूप से ध्यान देने को कहा। उन्होंने एफसीआइ में आज की स्थिति में छह लाख टन चावल जमा कराए जाने को एक उपलब्धि बताया और इसकी सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि एफसीआइ में लगातार लक्ष्य के अनुरूप चावल जमा होते रहे, यह हर हाल में सुनिश्चित किया जाना चाहिए। अफसरों ने बताया कि धान के एवज में किसानों को अब तक 15 हजार 335 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है।

अब तक 79 लाख टन धान की खरीदी

प्रदेश में अब तक करीब 79 लाख टन धान की खरीदी हो चुकी है। यह निर्धारित लक्ष्य 105 लाख टन का करीब 75 प्रतिशत है। पंजीयन कराने वाले 24 लाख से अधिक किसानों में से 19 लाख अपना धान बेच चुके हैं। बता दें कि खरीदी की समय सीमा 31 जनवरी को समाप्त हो रही थी।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local