रायपुर। कांग्रेस के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया शुक्रवार को आ रहे हैं। वह अपने तीन दिनी प्रवास में मंत्रियों और विधायकों की बैठक लेंगे। पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात करेंगे। सात माह के कामकाज के आधार पर मंत्रियों की समीक्षा होगी। विधायकों से भी मंत्रियों की रिपोर्ट ली जाएगी।

शुक्रवार दोपहर 2.20 बजे पुनिया रायपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे। शाम चार बजे पार्टी के प्रदेश मुख्यालय राजीव भवन में विधायकों की बैठक लेंगे। पार्टी सूत्रों का कहना है कि विधायकों की बैठक में पुनिया सरकार के कामकाज पर प्रतिक्रिया लेंगे। मंत्रियों के विभागवार काम पर राय लेंगे।

इसके अलावा विधायकों से पूछा जाएगा कि वे अपने क्षेत्र में कैसे काम कर रहे हैं? नगरीय निकाय चुनाव को लेकर उनकी क्या तैयारी चल रही है? दूसरे दिन पुनिया शनिवार को महासमुंद के कछारडीह जाएंगे, जहां दोपहर ढाई बजे कार्यकर्ताओं से भेंट करेंगे। उसके बाद नरवा, गस्र्वा, घुरवा, बाड़ी योजना के तहत बने गोठान का निरीक्षण करने पहुंचेंगे।

शाम छह बजे रायपुर लौट आएंगे और राज्य अतिथि गृह पहुना में मंत्रियों के साथ बैठक होगी। मंत्रियों के साथ बैठक का दौर रविवार को भी सुबह नौ बजे से चलेगा। दरअसल, एक-एक मंत्री पुनिया को अपना काम और आगे की योजना बताएंगे। शाम 7.40 बजे पुनिया दिल्ली रवाना हो जाएंगे।


पीसीसी से लेकर ब्लॉक कमेटी तक होगी भंग

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने बताया कि संगठन में बदलाव के लिए तेजी से काम हो रहा है। एआइसीसी सचिव डॉ. चंदन यादव और डॉ. अस्र्ण उरांव के साथ चर्चा हो चुकी है। प्रदेश प्रभारी पुनिया से भी संगठन को लेकर मंथन होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और दूसरे वरिष्ठ नेताओं के साथ भी बात होगी।

मरकाम ने कहा कि जब पीसीसी भंग होगी, तो जिला से लेकर ब्लॉक कमेटियां तक भंग हो जाएंगी। कांग्रेस का पूरा संगठन बदला जाएगा। नई ऊर्जा के साथ नया संगठन खड़ा होगा। मरकाम ने फिर इस बात पर जोर दिया कि संगठन में युवाओं को महत्व दिया जाएगा। महिलाएं को भी पद मिलेगा।

अच्छा काम करने वाले पुराने पदाधिकारियों को पद देकर उनके अनुभव का लाभ लिया जाएगा। नगरीय निकाय चुनाव के पहले संगठन में बदलाव की कोशिश चल रही है। नगरीय निकाय चुनाव के लिए महापौर, अध्यक्ष और पार्षद प्रत्याशियों का नाम फाइनल करने के लिए कार्यकर्ताओं की राय ली जाएगी।