रायपुर। छत्तीसगढ़ में मौसम के बदलते मिजाज सीधा असर बिजली कंपनी की धड़कन पर पड़ रहा है। किसी दिन सरप्लस बिजली से खजाना भर रहा है तो किसी दिन कटौती टालने के लिए खरीद करनी पड़ रही है। बुधवार को पीकऑवर में राज्य 50 से 150 मेगावॉट तक सरप्लस (अतिरिक्त बिजली) थी।

वहीं, गुस्र्वार को मौसम का तेवर बदला तो लगभग 100 मेगावॉट से अधिक बिजली खरीदनी पड़ी। हालांकि गुस्र्वार को भी पीक आवर में कुछ देर के लिए राज्य सरप्लस हुआ, लेकिन यह स्थिति ज्यादा देर तक नहीं रह सकी।

चार हजार मेगावॉट से ज्यादा डिमांड

राज्य में इस वक्त पीकऑवर में बिजली की मांग चार हजार मेगवॉट तक जा रही है। गुस्र्वार को शाम साढ़े छह बजे के आसपास बिजली की मांग 4010 मेगावॉट तक पहुंच गई थी। इसके बाद यह कम होकर 3950 मेगावॉट के पास आ गई।

ऐसे बदल रहे हालात

गुस्र्वार को शाम साढ़े छह बजे बिजली की मांग 4010 मेगावॉट पहुंची, लेकिन इस दौरान राज्य के पास 4020 मेगावॉट बिजली उपलब्ध थी। करीब 10 मेगावॉट सरप्लस। शाम सात बजे हालात बदल गए। डिमांड घटकर 3937 मेगावॉट आ गई, लेकिन बिजली की उपब्धता भी कम होकर 3835 मेगावॉट रह गई।

इस वजह से स्थिति बेहतर

बिजली अफसरों के अनुसार सरकारी संयंत्रों से करीब 19 सौ से दो हजार मेगावॉट तक उत्पादन हो रहा है। पावर एक्सचेंज और केंद्रीय कोटा मिलाकर हजार से 18 सौ मेगावॉट तक बिजली मिल रही है।

दो यूनिटों से फिलहाल उत्पादन नहीं

कोरबा वेस्ट संयंत्र और मड़वा संयंत्र एक-एक यूनिट फिलहाल बंद है। इन यूनिटों की स्थापित क्षमता क्रमश210 और 500 मेगावॉट है। अफसरों के अनुसार दोनों यूनिट तकनीकी कारणों से बंद हैं।

आवश्यकतानुसार हो रहा हाईड्रल संयंत्रों का उपयोग

बिजली अफसरों के अनुसार दिन में सरप्लस बिजली की वजह से हाईड्रल संयंत्रों की कुछ यूनिटों को बंद करना पड़ रहा है। मसलन बुधवार को पूरे दिन बांगों संयंत्र की एक यूनिट बंद रखी गई थी, लेकिन शाम को बिजली की मांग बढ़ते ही उसे चालू कर दिया गया। हालांकि गुस्र्वार को एक यूनिट बंद रही।

उत्पादन की स्थापित क्षमता में 200 मेगावॉट की कमी

छत्तीसगढ़ की सरकारी बिजली उत्पादन कंपनी की बिजली की स्थापित क्षमता में 200 मेगावॉट की कमी आ गई है। कोरबा ईस्ट संयंत्र की पुरानी हो चुकी 50 मेगावॉट की चार यूनिटों को सरकार ने बंद कर दिया है। इस कमी के कारण उत्पाद कंपनी की कुल उत्पादन क्षमता 3424.7 मेगावॉट से घटकर 3224.7 मेगावॉट रह गई है। इसमें 138.7 मेगावॉट हाईड्रल व बाकी थर्मल पॉवर है।


छत्तीसगढ़ में बिजली की स्थिति (दिनांक-16 अक्टूबर)

समय- सुबह11 शाम 6=30 शाम 7=30

मांग 3221 3845 3800

उपलब्ध 3355 3901 3853

रिक्त 143 57 53

(नोट- आंकड़े मेगावॉट में)

Posted By: Hemant Upadhyay