रायपुर राज्य ब्यूरो। रासायनिक खाद की कमी को लेकर राज्य के कई हिस्सों में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं, सरकार कह रही है कि राज्य के किसान अब तक पांच लाख 59 हजार 831 टन खाद का उठाव कर चुके हैं। यह पिछले वर्ष की तुलना में यह ढाई गुना अधिक है। पिछले वर्ष अब तक किसानों ने दो लाख 32 हजार टन खाद का उठाव किया था। वहीं, यूरिया की कमी को लेकर आ रही शिकायतों पर सरकार का दावा है कि अब तक तीन लाख 18 हजार 171 टन यूरिया खाद का वितरण हो चुका है।

कृषि विभाग के अपर संचालक (उर्वरक) एससी पदम ने बताया कि चालू खरीफ सीजन के लिए 13.70 लाख टन रासायनिक उर्वरक के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक नौ लाख 78 हजार 147 का भंडारण किया जा चुका है। इसमें 6.50 लाख टन यूरिया खाद के लक्ष्य के विरूद्ध 5.26 लाख टन का भंडारण शामिल है, जो वितरण लक्ष्य का 80 प्रतिशत है।

यूरिया की नहीं है कमी

पदम ने बताया कि किसानों को 28 जून की स्थिति में 3.18 लाख टन यूरिया का वितरण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि राज्य में यूरिया की कमी नहीं है। आवश्यकतानुसार सभी सोसायटियों में खाद की आपूर्ति लगातार की जा रही है।

आज हड़ताल पर रहेंगे प्रदेश के सरकारी कर्मचारी

प्रदेश के सरकारी कर्मचारी बुधवार को सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। इस दौरान वे अपनी मांगों को लेकर राज्य, विकासखंड, तहसील और जिला मुख्यालयों में प्रदर्शन करेंगे। इस आंदोलन में प्रदेश के लगभग सभी कर्मचारी संगठन शामिल हो रहे हैं। इस वजह से सरकारी स्कूलों-कालेजों के साथ ही तहसील से लेकर मंत्रालय तक कामकाज प्रभावित रहने की संभावना व्यक्त की जा रही है। कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में केंद्र के समान महंगाई भत्ता और गृहभाड़ा शामिल है। आंदोलन का आह्वान कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन ने किया है। फेडरेशन में 28 से अधिक संगठन शामिल हैं।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close