रायपुर। नईदुनिया, राज्य ब्यूरो। Chhattisgarh News : छत्तीसगढ़ के देश के छह राज्यों ओडिशा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार और उत्तर प्रदेश के किसानों को मछली बीज का निर्यात करेगा। राज्य इस वर्ष रिकार्ड मछली बीज उत्पादन की ओर है। इस मामले में छत्तीसगढ़ देश में छठवें स्थान पर पहुंच गया है। छत्तीसगढ़ में प्रगतिशील मछली पालक आधुनिक तकनीक से मछली बीज का उत्पादन कर रहे हैं। इससे राज्य मछली बीज के उत्पादन में आत्मनिर्भर हो गया है।

संचालक मछली पालन विभाग ने बताया कि पिछले वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्रदेश में 265 करोड़ मानक मछली बीज का उत्पादन किया गया। चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में 285 करोड़ मछली बीज उत्पादन का लक्ष्य है। प्रदेश में स्थानीय स्तर पर मछली बीज उत्पादन होने से मत्स्य पालक कृषकों को समय पर उन्नत मछली बीज कम लागत में प्राप्त हो जाता है।

मछली बीज उत्पादन के लिए निजी, सरकारी और छत्तीसगढ़ मत्स्य महासंघ के माध्यम से मछली बीज उत्पादन की तैयारी प्रारंभ कर दी गई है। प्रक्षेत्रों का रख-रखाव और सुधार किया जा रहा है। प्रदेश में आगामी वर्षा ऋतु में मछली बीज संचयन के लिए अभी से मछली बीज का उत्पादन भी निजी क्षेत्र में प्रारंभ हो गया है।

मछली पालन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ग्रीष्म ऋतु में उत्पादित मछली बीज को बोंसाई बनाकर वर्षा ऋतु में प्रदेश के मछली उत्पादक किसानों को उपलब्‍ध। कराया जाता है, इससे कम समय में इनकी वृद्घि दर अधिक होती है। वर्षा ऋतु में तालाबों में उपयुक्त जलस्तर होने पर मछली उत्पादक किसानों को मछली बीज समय पर उपलब्‍ध हो सकेगा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस