आकाश शुक्ला, रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राज्य के शासकीय मेडिकल कालेजों में जल्द ही इमरजेंसी मेडिसिन और ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग खुलेंगे। इसके लिए चिकित्सा शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। पंडित जवाहर लाल नेहरू मेमोरियल मेडिकल कालेज की डीन डा. तृप्ति नागरिया ने बताया कि इमरजेंसी मेडिसिन विभाग के लिए प्रस्ताव तैयार कर चिकित्सा शिक्षा विभाग को भेज दिया गया है। इसके लिए मानव संसाधन, इंफ्रास्ट्रक्चर की तैयारी चल रही है।

नेशनल मेडिकल कमिशन (एनएमसी) की अनुमति मिलते ही अलग विभाग शुरू कर दिया जाएगा। ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग के लिए स्वास्थ्य सचिव की सहमति के बाद मेडिकल कालेज से जल्द प्रस्ताव देने को कहा गया है। चिकित्सा शिक्षा विभाग के अनुसार इमरजेंसी मेडिसिन और ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग को लेकर रायपुर मेडिकल कालेजों में तैयारी शुरू हो चुकी है। राज्य के अन्य शासकीय मेडिकल कालेजों में भी दोनों विभागों के लिए प्रस्ताव भेजने की बात कही गई है।

चिकित्सकों के अनुसार इमरजेंसी मेडिसिन विभाग खुलने से अस्पताल में इमरजेंसी के मरीजों को बेहतर चिकित्सा सेवाएं मिलेंगी। ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग ब्लड बैंक प्रबंधन समेत खून से जुड़ी बीमारियों जैसे सिकल सेल, थैलेसिमिया, एनिमिया व अन्य रोगों के इलाज और शोध को बढ़ावा मिलेगा। इन विभागों में स्नातकोत्तर की सीटें खुलने से छात्रों को अवसर मिलेगा।

राज्य में एमबीबीएस की सीटें

1,120 लगभग सीटें शासकीय मेडिकल कालेजों में

450 सीटें तीन निजी मेडिकल कालेजों में

1,570 एमबीबीएस की सीटें वर्तमान में

राज्य के शासकीय मेडिकल कालेजों में सीटें

मेडिकल कालेज - कुल सीटें

रायपुर - 180

बिलासपुर - 180

अंबिकापुर - 125

रायगढ़ - 60

जगदलपुर - 125

कांकेर - 125

राजनांदगांव - 125

कोरबा - 100

महासमुंद - 100

शासकीय मेडिकल कालेजों में पीजी सीटें

कालेज - सीटें

रायपुर - 142

बिलासपुर - 36

जगदलपुर - 10

रायगढ़ - 6

राजनांदगांव - 7

कुल - 201 सीटें, वर्ष 2021 के अनुसार।

मेडिकल कालेजों में इमरजेंसी मेडिसिन विभाग और ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग खोलने की तैयारी चल रही है। रायपुर मेडिकल कालेज में इमरजेंसी मेडिसिन जल्द खुल जाएगा। ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन के लिए प्रस्ताव मांगा गया है। राज्य के अन्य कालेजों में भी विभाग खुलेंगे। हम प्रक्रिया कर रहे हैं।

-डा. विष्णु दत्त, संचालक, चिकित्सा शिक्षा विभाग

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close