- रायपुर और सरगुजा संभाग के बलरामपुर, सूरजपुर व अंबिकापुर में घटिया कीटनाशक की आपूर्ति

मधुकर दुबे

नईदुनिया, रायपुर।

किसानों की फसलों पर झुलसा और तनाछेदक सहित अन्य कीटों का प्रकोप है। ऐसे में रायपुर और सरगुजा संभाग सहित प्रदेश के अन्य जिलों के किसानों के सामने फसलों की बचाने की समस्या खड़ी हो गई है। बाजार में उपलब्ध कीटनाशक फसल को नुकसान पहुंचा रहे कीटों पर बेअसर साबित हो रहे हैं।

सरगुजा संभाग के बीज निगम ने लोकल रेट कांट्रैक्ट के तहत बीना एग्रो कंपनी से दो हजार लीटर एमिडा फ्लोफ्रीड लेकर कृषि विभाग के माध्यम से किसानों को बांटा था। लेकिन यह कीटनाशक फसलों को नुकसान पहुंचा रहे कीटों पर असर नहीं कर रहा है। नतीजतन करीब 30 हजार एकड़ में लगी धान की फसल बर्बाद होने की आशंका पैदा हो गई है। किसानों का कहना है कि पांच एकड़ फसल को कीटों से बचाने के लिए एक हजार रुपये खर्च होते हैं।

सूत्रों के अनुसार इस कंपनी को बीज निगम ने कीटनाशक की आपूर्ति के ऑर्डर दिए थे। सिर्फ सरगुजा संभाग में ही कंपनी ने डेढ़ करोड़ रुपये की आपूर्ति की है। बहरहाल अभी कृषि विभाग के अधिकारी किसानों से शिकायत नहीं मिलने की बात कह रहे हैं। इधर रायपुर संभाग में भी इस कंपनी ने कीटरोधी दवाओं की आपूर्ति की है। हैरत वाली बात है कि बीज निगम ने कीटनाशक की जांच कराये बिना ही करो़ड़ों रुपये का ऑर्डर रेट कांट्रैक्ट के तहत दे दिया है।

उप-कृषि संचालक सरगुजा एमआर भगत कंपनी के बचाव में दिखाई दे रहे हैं। उनका कहना है कि बीज निगम से घटिया कीटनाशकों की आपूर्ति नहीं होती है। उनके बयान से समझा जा सकता है कि अगर किसान शिकायत भी करते हैं, तो मामला उच्च अधिकारियों तक नहीं पहुंच पाता है।

वर्जन

इस साल नासिक और इंदौर की बीना एग्रो कंपनी से कीटनाशक की खरीदी की गई है। अभी कोई शिकायत नहीं मिली है। इसके प्रोडेक्ट के नमूने की जांच कराने के लिए उपकृषि संचालक से कहूंगा।

-एलडी बुंदेला, जिला प्रबंधक बीज निगम व कृषि विकास निगम, सरगुजा

इस कंपनी ने रायपुर संभाग में भी कीटनाशक की आपूर्ति की है। शिकायत मिलने पर उत्पाद की जांच कराई जाएगी।

-अनिल कुमार साहू, एमडी, बीज निगम, रायपुर

कंपनी की कीटनाशक दवा के नमूने को जांच के लिए फरीदाबाद भेजा गया है। इसकी रिपोर्ट आने पर ही स्थिति साफ होगी।

-अजय कुमार अनंत, उपकृषि संचालक, बलरामपुर

ऐसी सूचना मिली है, हम ने कीटनाशक की जांच करने और किसानों की फसलों का निरीक्षण करने के लिए कृषि वैज्ञानिकों को भेजा है।

- मनीराम भगत, उपकृषि संचालक, अंबिकापुर

अभी नए कीटनाशक के नमूने को भेजा जाना बाकी है। जांच रिपोर्ट आने के बाद कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- दिनेश कोसले, उपकृषि संचालक, सूरजपुर

घटिया कीटनाशक की आपूर्ति करने वाली कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग सरकार से की जाएगी। बीज निगम इनके उत्पाद की जांच किए बिना ही किसानों में बांट देता है।

- धरमलाल कौशिक, नेता प्रतिपक्ष, विधानसभा

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020