रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्‍तीसगढ़ में हुई बेमौसम बारिश की वजह से करीब सप्ताहभर से धान खरीदी प्रभावित है। पिछले सप्ताह बमुश्किल एक लाख टन के आसपास ही खरीदी हो पाई है। छत्‍तीसगढ़ मं मंगलवार से मौसम के साफ रहने के साथ धान खरीदी शुरू हो गई। धान खरीदी के लिए निर्धारित समय सीमा 31 जनवरी को समाप्त हो रही है। इसकी वजह से किसान चिंतित हैं। वहीं मंगलवार को प्रदेश के रायपुर, धमतरी, कांकेर, महासमुंद, बिलासपुर आदि जगहों पर धान खरीदी शुरू हो गई।

हालांकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आश्वस्त किया है कि जितने भी किसानों के पास टोकन रहेगा, उनसे धान खरीदी की जाएगी। बता दें कि प्रदेश में इस वर्ष 105 लाख टन धान खरीदी का लक्ष्य है। अब तक 69.17 लाख टन खरीदी हो चुकी है। धान बेचने के लिए पंजीयन कराने वाले 22.66 लाख में से 17.16 लाख किसान अब तक अपना धान बेच चुके हैं।

खरीदी का समय एक महीने बढ़ाने भाजपाई आज 18 जनवरी को सौंपेंगे ज्ञापन

धान खरीदी की समय सीमा एक महीने बढ़ाने सहित चार सूत्रीय मांगों को लेकर भाजपा सहकारिता प्रकोष्ठ व किसान मोर्चा संयुक्त रूप से मंगलवार को राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेगा। सहकारिता प्रकोष्ठ प्रदेश संयोजक शशिकांत द्विवेदी ने बताया कि बेमौस बारिश के कारण धान बेचने में किसानों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन राज्य सरकार चुप्पी साधे हुए है।

भाजपा की मांगों में बेमौसम बारिश के कारण किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देने, किसानों को यूरिया, डीएपी, पोटाश जैसी खाद के लिए भटकना पड़ रहा है। इन समस्याओं को लेकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close