रायपुर। Chhattisgarh: जिला शिक्षा अधिकारी के पद पर उप संचालक (संवर्ग) के अधिकारी को ही पदस्थ किए जाने का प्रावधान है, लेकिन प्रदेश में सात व्यक्तियों को सामान्य प्रशासन के स्थायी निर्देश 4 अगस्त 2011 को बायपास करते हुए प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी बनाया गया है, जो उचित नहीं है। छत्तीसगढ़ पैरेंट्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष क्रिष्टोफर पाल ने सामान्य प्रशासन और स्कूल शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर यह जानकारी दी है।

एसोसिएशन का कहना है कि प्रदेश में मूल संवर्ग (उप संचालक) के प्रथम श्रेणी अधिकारी के रहते हुए द्वितीय श्रेणी अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी का प्रभार दिया जाना सामान्य प्रशासन विभाग के स्थायी निर्देश का स्पष्ट रूप से उल्लंघन है। छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग, नवा रायपुर के द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी के पद वरिष्ठतम योग्य व्यक्तियों को चालू कार्यभार सौंपने की पद्धति न अपनाकर संवर्ग के कनिष्ठ अधिकारियों को प्रभार दे दिया जा रहा है और ऐसे कनिष्ठ अधिकारी वरिष्ठ पदों का प्रभार लंबे समय से ग्रहण किए हुए है जो नियम विपरीत है।

एसोसिएशन ने सामान्य प्रशासन और शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर सात व्यक्तियों को जिन्हे नियम विरूद्ध जिला शिक्षा अधिकारी का प्रभार दिया गया उन्हें तत्काल उनके मूल पद पर स्थानांतरण करते हुए सामान्य प्रशासन के स्थायी निर्देशानुसार योग्य और वरिष्ठतम अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी के पद पर पदस्थ करने की मांग की गई है।

ये है प्रदेश के प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी

प्रवास सिंग बघेल (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, दुर्ग), राजेश कर्मा (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, दंतेवाड़ा), रजनी नेलशन (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, धमतरी), मधुलिका तिवारी (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, बेमेतरा), एमआर मंडावी (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, नारायणपुर), राजेश कुमार झा (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, जगदलपुर) और परसराम चंद्राकर (प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी, महासमुंद) हैं।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस