रायपुर। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी की पहल पर पुलिस परिवार के मेधावी छात्रों के कल्याण के लिए पुलिस मुख्यालय में 12वीं पास पुलिस परिवार के 39 मेधावी छात्रों का सम्मान किया गया। ये छात्र 80 प्रतिशत अंक प्राप्त और विभिन्न् प्रतियोगी परीक्षाओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए नीट, आईआईटी, क्लेट जैसे उच्च संस्थानों में चयनित हुए हैं।


डीजीपी अवस्थी ने कहा कि छात्रों को बुलाने का उद्देश्य केवल प्रमाण-पत्र प्रदान करना नहीं, बल्कि उनको पढ़ाई के क्षेत्र में आगे बढ़कर पुलिस विभाग और अपने माता-पिता का नाम रोशन करना है। पुलिस विभाग की संघर्षपूर्ण सेवा में रहकर भी उन्होंने अपने बच्चों को इस मुकाम तक पहुंचाया।

पुलिस परिवारों के सभी मेधावी छात्र जो अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित हैं, उनके लक्ष्य तक पुलिस विभाग उनके साथ खड़ा है। इसके लिए पुलिस विभाग उन्हें मार्गदर्शन प्रदान करेगा और उच्च शिक्षा के लिए हर संभव मदद किया जाएगा।

उन्होंने सभी प्रतिभावान बच्चों का जिलेवार डाटा बेस तैयार करने, बच्चों और उनके पालकों के छायाचित्र संकलित कर एक मार्गदर्शिका/पुस्तिका तैयार कर सभी पुलिस इकाईयों में भेजने का निर्देश दिया। इससे अन्य पुलिस कर्मियों और अध्ययनरत छात्रों को प्रेरणा मिलेगी।

अवस्थी ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त किया कि 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में 97 और 92 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले ज्यादातर मेधावी छात्र आरक्षक और प्रधान आरक्षक परिवारों से संबंधित है। इस अवसर पर डीआइजी आरएस नायक, एचआर मनहर, एआइजी जितेंद्र शुक्ल सहित अन्य मौजूद थे।