रायपुर। बंगाल की खाड़ी में बना सिस्टम 22 और 23 सितंबर को छत्तीसगढ़ को प्रभावित करने वाला है। हालांकि यह सिस्टम ज्यादा प्रभावी नहीं है, लेकिन एक वेक्टोरियल डिफ्रेंस बना हुआ है, जिसके चलते मध्य छत्तीसगढ़ में भी अच्छी बारिश का पूर्वानुमान है। शनिवार को गुजरती बरसात के इन खास दिनों का आनंद आप उठा सकते हैं।

इससे भी खास यह है कि 12 अक्टूबर को मानसून की वापसी होती है, इससे पहले ही प्रदेश में अब तक हुई बारिश ने औसत बारिश के आंकड़े को पार कर लिया है। बीते 8-10 सालों में औसत बारिश का आंकड़ा 1143 मिमी रहा, जो 20 सितंबर तक 1143.1 मिमी हो चुका है।

अगले कुछ दिनों में हल्की बारिश से ये काफी आगे निकल जाएगा। राजधानी रायपुर में सुबह हल्की बूंदा-बांदी हुई। प्रदेश के कई इलाकों में आसमान पर बादल छाए हुए हैं और आगामी 24 घंटों में अच्छी बारिश हो सकती है।

बहरहाल प्रदेश का मौसम अभी कुछ क्षेत्रों में गर्म, कुछ में हल्की बूदाबांदी वाला बना हुआ है। रायपुर में पारा 33.5 डिग्री जा पहुंचा है। जगदलपुर, पेंड्रा में बूंदाबांदी हुई। बस चिंता का विषय पांच जिले हैं, जो अभी भी औसत से कम बारिश वाले हैं।

इनमें जांजगीर, जशपुर, मुंगेली, कोरबा, सरगुजा प्रमुख रूप से शामिल हैं। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा का कहना है कि बहुत बड़े सिस्टम अब नहीं बनेंगे। छुटपुट बारिश ही होगी। शुक्रवार को रायपुर में सुबह से धूप खिली रही, हालांकि बीचबीच में बदली भी छाई रही।

जिले- तापमान- बारिश के आंकड़े

रायपुर- 32.5- 0.0

बिलासपुर- 32.0- 0.0

पेंड्रा- 30.8- 7.2

अंबिकापुर- 29.9- 6.2

जगदलपुर- 30.4- 6.7

दुर्ग- 33.6- 1.2

राजनांदगांव- 33.0- 35.0

(आंकड़े मिमी में)

पूर्वानुमान- पूर्व-पश्चिम शेयर जोन 18 डिग्री उत्तर के अनुदित मध्य प्रायद्वीप के ऊपर नौ किमी से 5.8 किमी तक बना हुआ है। इसका खासा प्रभाव मध्य छत्तीसगढ़ में शनिवार-रविवार को दिखाई देगा। अच्छी बारिश होने का पूर्वानुमान है।