रायपुर। राजधानी रायपुर के डब्ल्यूआरएस कॉलोनी स्थित केंद्रीय विद्यालय क्रमांक एक में संस्कृत सप्ताह के दौरान तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित हुए। नृत्य एवं नाटक के जरिए बधाों ने गंदगी से होने वाले नुकसान एवं स्वच्छता से होने वाले फायदों को नागरिकों को समझाया। बीमारी से बचने के लिए घरों दुकानों का कचरा रोड पर ना फेंक कर कूड़ेदान डस्टबिन में एकत्रित कर कचरा वाहन में डालने, घर-घर में शौचालय बनाए जाने की प्रेरणा देने वाली प्रस्तुतियां दी।

कार्यक्रम के दौरान संस्कृत अध्यापक सती दास ने कक्षा छठवीं से लेकर नवमी तक के विद्यार्थियों को संस्कृत सप्ताह के अंतर्गत नाट्य मंचन की तैयारियों में अपनी महती भूमिका का निर्वहन किया। इस दौरान विद्यार्थियों ने संस्कृत में विभिन्न आयामों पर आधारित नाटकों का बड़ा ही मनोहारी मंचन किया। इस प्रतियोगिता के निर्णायक शिक्षक वीके तिवारी, शिक्षक अजय यादव और जांगड़े रहे जिन्होंने बड़ी दक्षता से निर्णायक की भूमिका निभाई। लाल मनीराम संस्कृत अध्यापक ने कार्यक्रम का संयोजन किया।

केंद्रीय विद्यालय में 13 से 20 अगस्त तक लगातार संस्कृत सप्ताह का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसके अंतर्गत विभिन प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए गए। उनमें श्लोक पाठ, निबंध लेखन, कहानी कथन नाट्य मंचन आदि कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। संस्कृत प्रश्न मंच का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया जो सराहनीय रहा। शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग ने बधाों के शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण के लिए अभियान शुरू कर दिया है। इसके तहत केंद्रीय विद्यालय में बधाों का लगातार स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है।