रायपुर, राज्य ब्यूरो। Mission 2023: कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी और जिलाध्यक्षों की बैठक में सत्ता और संगठन के बीच तालमेल पर चर्चा हुई। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव चंदन यादव और सप्तगिरी शंकर उल्का की मौजूदगी में जिलाध्यक्षों ने अफसरों के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। जिलाध्यक्षों ने कहा कि कलेक्टर से लेकर छोटे अफसर भी बात नहीं सुनते हैं। कार्यकर्ताओं के छोटे-छोटे काम नहीं हो पा रहे हैं, इससे भारी नाराजगी है।

जिलाध्यक्षों की बात सुनने के बाद प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि सत्ता, संगठन और अफसरों के बीच तालमेल बिठाएंगे। मीडिया से चर्चा में मरकाम ने पदाधिकारियों की नाराजगी पर कहा कि जहां दिक्कत है, उसे बातचीत करके दूर किया जाएगा। सभी मिशन 2023 के लिए एकजुट हो रहे हैं।

छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि हमें अब 2023 के विधानसभा चुनाव और 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी अभी से शुरू करनी है। सभी जिलों में बूथ कमेटियों को बनाने का काम युद्ध स्तर पर करना है। बूथ कमेटियां बनाने का काम सिर्फ ब्लाक अध्यक्षों के भरोसे नहीं वरिष्ठ नेताओं, जिला अध्यक्षों को खुद मानिटरिंग कर गठन करना होगा। सभी को पूरी ईमानदारी से एक टीम बनकर काम करना है।

चाहे विधायक हो, जिलाध्यक्ष हो या ब्लाक अध्यक्ष सभी का एक लक्ष्य होना चाहिए, चुनाव जीतना। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने बैठक में कहा कि हम सबको संगठन को मजबूत कर सरकार के कामों को जनता तक ले जाना है। दिसंबर तक 23 हजार से अधिक बूथ कमेटियों का पुनर्गठन हो जाना चाहिए। इसके लिए हर महीने समीक्षा होगी। पूरे प्रदेश के ऐसे तीन जिलों का सम्मान किया जाएगा, जो समय से पहले बूथ कमेटी का गठन कर लेंगे।

सीएम की गैरमौजूदगी की चर्चा

प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की गैरमौजूदगी की चर्चा राजीव भवन में पूरे दिन रही। प्रदेश प्रभारी पुनिया ने कहा कि मुख्यमंत्री से सुबह मुलाकात हुई है। शाम को विधायक दल की बैठक में एक बार फिर मुलाकात होगी। चर्चा है कि प्रदेश संगठन की ओर से मुख्यमंत्री को आमंत्रित ही नहीं किया गया। हालांकि मुख्यमंत्री पूरे दिन निगम-मंडल के अध्यक्षों और सदस्यों के पदभार ग्रहण समारोह में वर्चुअल शामिल होते रहे।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local