रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ के 15 नगरीय निकायों के 370 वार्ड में होने वाले चुनाव में प्रत्याशी चयन के लिए कांग्रेस का पांच स्तर पर सर्वे चल रहा है। नगरीय निकाय चुनाव की रणनीति बनाने के लिए पिछले गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस के कार्यालय राजीव भवन में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया है कि निकाय चुनाव में प्रत्याशी चयन के लिए दावेदारों से बायोडाटा न लेकर सर्वे कराया जाए। सर्वे में जो जिताऊ दावेदार लगेगा, उसे ही प्रत्याशी घोषित किया जाएगा।

प्रदेश में 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने सभी को दावेदारी का मौका देने के लिए दावेदारों से बायोडाटा लिया था, लेकिन अब निकाय चुनाव के लिए प्रदेश ने निकाय चुनाव में विधानसभा चुनाव के फ़ार्मूले को खारिज कर दिया है। सर्वे का काम पार्टी के पदाधिकारी ही कर रहे हैं। इसलिए पक्षपात का आरोप न लगे, इस कारण पांच लेयर का सर्वे कराकर प्रत्याशी चयन करने का फैसला लिया गया है। पार्टी पदाधिकारियों के अनुसार हर वार्ड में जिताऊ प्रत्याशी की तलाश के लिए वार्ड, बूथ, ब्लाक और जिला कमेटी के लोग सर्वे कर रहे हैं।

कौन प्रत्याशी जनता में लोकप्रिय उसको प्राथमिकता

सर्वे में यह देखा जा रहा है कि वार्ड में पार्टी का कौन सा कार्यकर्ता जनता के बीच सक्रिय और लोकप्रिय है। वार्ड, ब्लाक और जिला कमेटियों द्वारा सूची तैयार होने के बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा नगरीय निकाय चुनाव के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक सर्वे करेंगे। प्रत्याशी चयन में किसी तरह से पक्षपात न हो, इसके लिए वार्ड, ब्लाक और पर्यवेक्षकों द्वारा तैयार की गई सूची में से वार्डवार ऐसे नामों को अलग किया जाएगा, जो सभी की सूची में शामिल होंगे। यह काम प्रदेश कांग्रेस की प्रत्याशी चयन समिति करेगी।

इसके बाद प्रत्याशी चयन समिति की सूची का सीएम भूपेश बघेल और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम अनुमोदन करेंगे, लेकिन इसके पहले बघेल व मरकाम आला नेताओं और जिन निकायों में चुनाव होने हैं, उनसे संबंधित जिलों के प्रभारी मंत्रियों की बैठक लेंगे। इसमें एक-एक वार्ड के लिए आए नामों पर संयुक्त रूप से मंथन होगा, उसके बाद ही प्रत्याशियों की सूची फाइनल होगी।

सर्वे से पार्टी को जिताऊ प्रत्याशी मिलेंगे

बायोडाटा लेने पर कोई भी दावेदारी पेश कर देता है, जबकि सर्वे करने पर जनता की पसंद वाले जिताऊ नाम ही पार्टी को मिलेंगे। इससे पार्टी के आला नेताओं को स्क्रूटनी कर फाइनल सूची तैयार करने के लिए ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी। पार्टी को निकाय चुनाव के लिए जिताऊ प्रत्याशी ही मिलेंगे। सर्वे का काम लगभग पूरा होने वाला है।

रवि घोष, प्रदेश प्रभारी महामंत्री प्रशासन

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local